• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Corporation's Argument Patchwork Being Done On Main Roads, Work Will Be Completed Soon, Claim: Reality Of Pothole free City Roads In A Week: Roads Still Broken In Main Areas And Localities

चलने लायक सड़क चाहिए:निगम का तर्क- मुख्य सड़कों पर करवा रहे पैचवर्क, जल्द पूरा होगा काम, दावा: शहर की सड़कें हफ्तेभर में गड्ढामुक्त करने का हकीकत: अब भी मेन इलाकों-मोहल्लों में सड़कें टूटी

लुधियाना9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैंसर अस्पताल के पास - Dainik Bhaskar
कैंसर अस्पताल के पास
  • कैंसर अस्पताल के पास खोद रखा है गड्‌ढा, रोज लग रहा जाम, गिल-धांधरां रोड पर भी हालात बदत्तर

जिले में मॉनसून की विदाई हो चुकी है। इस बार शहर की सड़कों का बरसात के दिनों में बुरा हाल है। इसके पीछे कारण ये है कि शहर की सड़कों पर पानी की निकासी सही ढंग से नहीं हाे पाई। सड़कों पर कई जगह गहरे गड्ढे बन चुके हैं। ऐसे में बीएंडआर ब्रांच के अफसरों ने इन गड्ढों को अस्थाई तौर पर भी ठीक नहीं किया। इससे लोगों को भारी दिक्कत हुई।

भास्कर ने शहर की टूटी हुई सड़कों के मुद्दे को गंभीरता से उठाया तो कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु ने संज्ञान लेकर निगम अफसरों को हफ्तेभर में शहर की सभी मेन सड़कों को गड्ढामुक्त करने की चेतावनी दी। हालांकि हफ्तेभर में सड़कों पर पैचवर्क लगते तो दिखे, लेकिन हकीकत ये है कि अब भी कई प्रमुख सड़कें और गली-मोहल्लों की सड़कें टूटी नजर आ रही हैं। वहीं, मेयर बलकार सिंह संधू ने तर्क दिया है कि शहर की मुख्य सड़कों पर पहल के आधार पर पैचवर्क लगाए जा चुके हैं और अन्य सड़कों पर काम जारी है। इस काम को भी जल्द खत्म कर दिया जाएगा।

बता दें कि भास्कर ने शहर की कई सड़कों के हालात देखे। इनमें गिल रोड, कैंसर अस्पताल रोड, विश्वनाथ मंदिर रोड, हैबोवाल के कई इलाके, दुगरी रोड, इंडस्ट्रियल एरिया, नूरवाला रोड, जीवन नगर रोड से ढंडारी खुर्द रोड, स्टार रोड लोहारा और कई इलाकों के अंदरूनी सड़कों की हालत अब भी बुरी है। इसके अलावा सड़कों के बीच में सीवरेज मैनहोल तो अभी तक ठीक नहीं किए हैं, इसी कारण गड्ढों से भी दोपहिया वाहन चालकों को खतरा है।

इधर, कैलाश पुलिस स्टेशन के पास 40 साल पुरानी पुली टूटी

वॉर्ड 83, 90 को लगती कैलाश नगर पुलिस स्टेशन के पास दो पार्कों के बीच से निकल रही पुली पर से सुबह के समय गेहूं की बोरियों से लदा ट्रक निकलते समय पुल की जमीन नीचे बैठ गई। इससे वहां करीब 40 साल पुरानी पुली बुरी तरह से टूट गई। ट्रक के पीछे पहिए इसमें जा धंसे। इस हादसे के कारण पुली के नीचे से गुजर रही निगम वॉटर सप्लाई की 8 इंची लाइन डैमेज हो गई थी। इसे तीन प्रमुख इलाकों में गुरुनानक पुरा, न्यू दीप नगर और उपकार नगर के इलाकों में पानी की सप्लाई प्रभावित हो गई थी। इसकी सूचना पाकर ओएंडएम ब्रांच अफसर मौके पर पहुंचे और रिपयेरिंग का काम शुरू किया।

हालांकि ये स्पष्ट नहीं हो पाया कि आखिर इस पुली के टूटने का कारण क्या है। इसकी अभी विभागीय जांच होगी और उसके बाद रिपोर्ट तैयार होगी कि आखिर पुली किन कारणों से बैठी है। निगम अफसरों का कहना है कि पानी की सप्लाई को शुक्रवार तक ठीक कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...