पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध के बाद बनी बात:पार्षद ने दिया धरना तो शाम होने से पहले शुरू हुआ पैचवर्क

लुधियाना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जोन-डी में मेयर दफ्तर पर पार्षद मंजू अग्रवाल अपने पति के साथ निगम के खिलाफ धरना लगा बैठीं। उन्होंने आरोप लगाया कि उनके इलाकों में न तो पैचवर्क हो रहे हैं और न ही अफसर उनकी सुनवाई करते हैं। इस पर मेयर ने उन्हें दफ्तर में बुलाया और नतीजा ये सामने आया कि शाम होने से उनके वॉर्ड में पैचवर्क शुरू हो गया।

इसी तरह जोन-ए के बाहर युवा एनजीओ के कुमार गौरव ने बिल्डिंग ब्रांच के खिलाफ अवैध इमारत पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर भूख हड़ताल की। इसके बाद जोन-ए की बिल्डिंग ब्रांच ने जिस बिल्डिंग के खिलाफ भूख हड़ताल की थी, उसके मालिक ने डेढ़ लाख रुपए जमा करवाए दिए।

इससे स्पष्ट है कि अफसरों को कोई गलत काम दिखता नहीं हैं। कौंसलरों के वॉर्डों में काम सही तरीके से करते नहीं, जबकि इनके खिलाफ कोई धरना-प्रदर्शन करे तो तुरंत कार्रवाई को तैयार हो जाते हैं।

खबरें और भी हैं...