पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना अपडेट:डीएफएससी राकेश भास्कर की कोरोना से मौत, 13 नए केसों में से 5 लुधियाना से संबंधित; 141 एक्टिव केस

लुधियाना12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वर्तमान में नवांशहर में तैनात डीएफएससी राकेश भास्कर की भी कोविड से मौत हो गई
  • 14 दिनों में 3.5 लाख वैक्सीन की मांग, 65% मिली डोज

बुधवार को जिले में कोविड के 13 नए संक्रमित मिले हैं। इनमें से 5 लुधियाना और 8 दूसरे जिलों व राज्यों से संबंधित हैं। कोविड की शुरुआत के साल बाद जिले के इतने कम संक्रमित देखने को मिले हैं। वहीं, लुधियाना के रहने वाले और वर्तमान में नवांशहर में तैनात डीएफएससी राकेश भास्कर की भी कोविड से मौत हो गई। वो पिछले तीन महीनों से कोविड से जूझ रहे थे।

भास्कर डीएमसी हॉस्पिटल में एडमिड थे। लुधियाना के फूड सप्लाई कंट्रोलर सुखविन्द्र सिंह गिल ने बताया कि कुछ दिनों पहले की भास्कर की बहन की भी कोविड से मौत हुई थी। ऐसे में परिवार को दोहरा झटका लगा है जो बेहद दुखद है। जिले में अब 141 एक्टिव केस हैं। इनमें से 127 होम आइसोलेशन में हैं। 4 सरकारी और 18 प्राइवेट हॉस्पिटल में हैं। बुधवार को पॉजिटिव आए केस में 1 हेल्थ वर्कर भी शामिल हैं। जिले के अब तक 2103 मरीजों की कोविड से मौत हो चुकी है।

14 दिनों में 3.5 लाख वैक्सीन की मांग, 65% मिली डोज

जुलाई के 14 दिनों में जिले से कोविड की वैक्सीन के लिए 3.5 लाख वैक्सीन की डोज की डिमांड जा चुकी है। लेकिन इसका 65% हिस्सा ही जिले को अब तक मिल सका है। डोज की कमी के कारण जहां जिले में तीन दिन कैंप नहीं लग सके। वहीं, जुलाई में अब तक 200647 को वैक्सीन लग सकी है। अगर डोज की कमी न हो तो जिले में रोजाना 25 हजार लाभार्थियों को आसानी से वैक्सीन लग सकती है। जिससे योग्य लाभार्थियों को कम से कम एक डोज तो अगस्त के अंत लग सकेगी। जबकि अब तक जिले के 1109927 लाभार्थियों को कम से कम एक डोज लग चुकी है। जबकि 249410 लाभार्थियों को दोनों डोज लग चुकी है। वीरवार के लिए भी जिले में सिर्फ ही तीन ही वैक्सीनेशन कैंप होंगे। वीरवार को कोविशील्ड की डोज पहुंचने की संभावना है। ऐसे में वीरवार को कोवैक्सीन का ही कैंप लगेगा। इसमें यूसीएचसी सिविल सर्जन कॉम्पलैक्स, यूपीएचसी मॉडल टाउन और यूपीएचसी सुनेत में कैंप लगेंगे।

खबरें और भी हैं...