सिद्धू के विरोध के बावजूद DGP सहोता डटे:PAP कॉम्प्लेक्स में बॉर्डर रेंज और जालंधर रेंज के अफसरों से मीटिंग, जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने को कहा

लुधियाना20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी (PPCC) अध्यक्ष नवजोत सिद्धू के लगातार विरोध के बावजूद DGP इकबालप्रीत सिंह सहोता अपनी ड्यूटी सक्रियता से निभा रहे हैं। चंडीगढ़ में सिद्धू की पत्रकारवार्ता के अगले ही दिन DGP सहोता ने अफसरों की हाईलेवल मीटिंग बुलाकर जरूरी दिशा निर्देश दिए।

DGP सहोता ने जालंधर में PAP कॉम्प्लेक्स में जालंधर रेंज और बॉर्डर रेंज के अफसरों के साथ अपराध समीक्षा बैठक की। मीटिंग के दौरान DGP सहोता ने मौजूदा स्थिति के मद्देनजर सीमा पर चौकसी बढ़ाने और सूचीबद्ध तस्करों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए। DGP सहोता ने सभी सीपीज /एसएसपीज को नशा, गैर-कानूनी माइनिंग और भ्रष्टाचार के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने को कहा। मीटिंग में जालंधर पुलिस कमिशनर नौनिहाल सिंह, IGP जालंधर रेंज गुरिंदर सिंह ढिल्लों, IGP बॉर्डर रेंज मोहनीश चावला और सीपी अमृतसर सुखचैन सिंह गिल मौजूद रहे।

जालंधर में अधिकारियों के साथ मीटिंग करते हुए डीजीपी सहोता।
जालंधर में अधिकारियों के साथ मीटिंग करते हुए डीजीपी सहोता।

थानों और धार्मिकस्थलों पर CCTV लगाने के आदेश

फिरोजपुर बॉर्डर के पास हाल में बरामद हुए एक और टिफिन बम का नोटिस लेते हुए DGP इकबालप्रीत सिंह सहोता ने सीमा रेंज के अधिकारियों को हथियारों, गोला बारूद, विस्फोटक और नशा तस्करी के लिए इस्तेमाल किए जा रहे ड्रोनों पर पैनी नजर रखने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी एसएसपीज और सभी पुलिस थानों और धार्मिकस्थलों पर CCTV कैमरे लगाने के आदेश भी दिए।

सेक्टर में बांटकर गजटेड अधिकारी लगाने के आदेश

DGP सहोता ने बॉर्डर रेंज के एसएसपीज को अपने जिलों को सेक्टरों में बांटने और हर सेक्टर के लिए एक गजटेड अफसर तैनात करने के आदेश दिए। ये अधिकारी नाइट डोमिनेशन पर निजी तौर पर मौजूद रहेंगे। उन्होंने भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ लगते जिलों पठानकोट, गुरदासपुर, बटाला, अमृतसर ग्रामीण, तरनतारन, फिरोजपुर और फाजिल्का शामिल में रात 9 बजे से अलसुबह 4 बजे तक नाइट डोमिनेशन ऑपरेशन चलाने के आदेश दिए।

खबरें और भी हैं...