• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Elderly Couple Murdered In Ludhiana, Dead Bodies Found Lying On The Third Floor Of A House In GTB Nagar; Police Engaged In Investigation

लुधियाना में डबल मर्डर:स्कूल चलाने वाले बुजुर्ग दंपती की लाशें घर में मिलीं, CCTV में डीवीआर ले जाते दिखे संदिग्ध

लुधियाना3 महीने पहले

लुधियाना में एयरफोर्स के रिटायर्ड अधिकारी और उनकी पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। वारदात लुधियाना के जमालपुर स्थित गुरु तेग बहादुर नगर (GTB नगर) में हुई। मृतकों की पहचान भूपिंदर सिंह और उनकी पत्नी सुषपिंदर कौर के रूप में हुई। भूपिंदर सिंह स्कूल भी चलाते थे। वारदात के समय भूपिंदर सिंह का बेटा मनी ग्रेवाल अपने परिवार के साथ घर की निचली मंजिल पर सोया हुआ था।

भूपिंदर सिंह और उनकी पत्नी सुषपिंदर कौर की हत्या का पता बुधवार सुबह चला। दोनों की लाशें तीसरी मंजिल पर अलग-अलग पड़ी मिलीं। पुलिस के अनुसार कमरे की अलमारियां खुली थीं और सामान बिखरा पड़ा था। इस बीच पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज मिली है जिसमें तीन संदिग्ध नजर आ रहे हैं। पुलिस ने यह फुटेज अपने कब्जे में ले ली।

डबल मर्डर की जानकारी मिलते ही लुधियाना के CP डॉ. कौस्तुभ शर्मा, ज्वाइंट CP रवचरण सिंह बराड़, ADCP-4 , CIA -1 इंचार्ज राजेश कुमार, फोरेंसिक एक्सपर्ट और अन्य टीमें मौके पर पहुंच गईं। पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर सिविल अस्पताल पहुंचा दिए। पुलिस का दावा है कि बहुत जल्द मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

भूपिंदर सिंह और उनकी पत्नी सुषपिंदर कौर। (फाइल फोटो)
भूपिंदर सिंह और उनकी पत्नी सुषपिंदर कौर। (फाइल फोटो)

एक बॉडी ड्राइंग रूम तो दूसरी बॉडी बेड पर मिली

भूपिंदर सिंह और उनकी पत्नी की हत्या का पता बुधवार सुबह उस समय चला जब उनका पोता और निचली मंजिल पर रहने वाले उनके बेटे मनी ग्रेवाल का बेटा तीसरी मंजिल पर गया। उसने दादाजी को ड्राइंग रूम में पड़ा देखकर तुरंत नीचे आकर अपने पिता को बताया। मनी ग्रेवाल और उनकी पत्नी भागते हुए तीसरी मंजिल पर पहुंचे तो देखा कि भूपिंदर सिंह ड्राइंग रूम में पड़े थे और सुषपिंदर कौर बेड पर बेसुध पड़ी थी। मनी ग्रेवाल ने तुरंत नजदीक रहने वाले डॉक्टर को बुलवाया। डॉक्टर ने चेकअप के बाद दोनों को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

महिला का शव एम्बुलेंस में रखते कर्मचारी।
महिला का शव एम्बुलेंस में रखते कर्मचारी।

पुलिस का दावा- फ्रेंडली एंट्री, DVR भी गायब

लुधियाना के पुलिस कमिश्नर डॉ. कौस्तुभ शर्मा ने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस को घर में लगे CCTV कैमरों की DVR गायब मिली। मौका-ए-वारदात पर भूपिंदर सिंह और हत्यारों के बीच हाथापाई या धक्कामुक्की का कोई निशान नहीं मिला। हत्यारों ने घर में कहां से एंट्री ली? यह फिलहाल क्लीयर नहीं है। शुरुआती जांच के बाद पुलिस का मानना है कि भूपिंदर सिंह के कमरे में हत्यारों की फ्रेंडली एंट्री हुई यानि हत्यारे और भूपिंदर सिंह एक-दूसरे को जानते थे। इस वारदात में संभवत: किसी अपने का ही हाथ है। पुलिस का कहना है कि उसे कई क्लू मिले हैं और बहुत जल्दी ही इस डबल मर्डर का खुलासा कर दिया जाएगा।

लुधियाना में घटनास्थल पर जानकारी जुटाती पुलिस।
लुधियाना में घटनास्थल पर जानकारी जुटाती पुलिस।

फुटेज में दिखे 3 लोग, एक के हाथ में DVR

CP डॉ. कौस्तुभ शर्मा के अनुसार, पुलिस को घर के आसपास लगे CCTV कैमरों की जो फुटेज मिली है, उसमें 3 लोग आते और जाते हुए नजर आए हैं। इनमें से एक के हाथ में DVR भी दिख रहा है। पुलिस को शक है कि इन्हीं लोगों ने वारदात की है। फिलहाल इनकी तलाश शुरू कर दी गई है। कमिश्नर का कहना है कि मामला संदिग्ध है। फोरेंसिक टीम ने काफी क्लू जुटाए हैं।

8 साल पहले हुए एयरफोर्स से रिटायर

भूपिंदर सिंह आठ साल पहले एयरफोर्स से रिटायर हुए। इन दिनों वह अपनी पत्नी सुषपिंदर कौर, बेटे मनी ग्रेवाल, बहू और पोतों के साथ चंडीगढ़ रोड पर गुरु तेग बहादुर नगर की गली नंबर 2 में रह रहे थे। भूपिंदर सिंह का एक बेटा और दो बेटियां हैं। दोनों बेटियों की शादी हो चुकी है। भूपिंदर सिंह अपनी पत्नी के साथ घर की तीसरी मंजिल पर रहते थे जबकि उनका बेटा मनी ग्रेवाल अपने परिवार के साथ निचली मंजिल पर रह रहा है।

शव को एम्बुलेंस में रखते कर्मचारी।
शव को एम्बुलेंस में रखते कर्मचारी।

खुद स्कूल के डायरेक्टर, पत्नी प्रिंसिपल

रिटायरमेंट के बाद भूपिंदर सिंह मुंडियां में स्कूल चलाने लगे। उनके स्कूल का नाम करतार कॉन्वेंट स्कूल है। भूपिंदर सिंह इस स्कूल के डायरेक्टर और उनकी पत्नी प्रिंसिपल थीं। उनका बेटा मनी ग्रेवाल स्कूल में काम करने के साथ-साथ प्रॉपर्टी खरीदने-बेचने का काम करता है। भूपिंदर सिंह ने अपने घर में भी प्ले-वे स्कूल खोला, लेकिन कुछ समय बाद ही उसे बंद कर दिया।