विस चुनाव 2022 के उम्मीदवार से धोखाधड़ी:5 लाख लेकर नकली सोना थमा गए उत्तर प्रदेश के ठग; संगरूर के चमकौर सिंह को शिअद-बसपा ने दी है टिकट

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चमकौर सिंह का फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
चमकौर सिंह का फाइल फोटो।

शिरोमणि अकाली दल बादल और बहुजन समाज पार्टी के उमीदवार को उत्तर प्रदेश के ठगों ने ठग लिया है। नकली सोना देकर ठग बसपा नेता से पांच लाख रुपए ले गए। अब पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। लुटेरों की तलाश के साथ-साथ उम्मीदवार की कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। संगरूर निवासी चमकौर सिंह को विधानसभा क्षेत्र महलकलां से बहुजन समाज पार्टी ने शिरोमणि अकाली दल बादल और बसपा का सांझा उम्मीदवार घोषित किया है।

चमकौर सिंह और उनके रिश्तेदार सरबजीत सिंह ने पुलिस को शिकायत दी है कि राहुल और राजू नामक दो मजदूर सरबजीत सिंह के साथ मजदूरी करते थे। इसी कारण सरबजीत सिंह की उनके साथ जान पहचान थी। उक्त दोनों लोगों ने सरबजीत सिंह का बताया कि उन्हें घर की खुदाई के दौरान जमीन के नीचे से सोना मिला है, जिसकी कीमत 10 लाख रुपए है, मगर वह उसे आधे दाम पर दे देंगे। सरबजीत सिंह ने इस संबंध में बसपा नेता चमकौर सिंह से बात की और उसे पैसे देने के लिए कहा।

चमकौर सिंह ने खाते से 5 लाख रुपए निकलवाए और राहुल व राजू को धूरी के नजदीक रजबाहे के पुल पर मिले। चारों में बातचीत हुई और इसके बाद सरबजीत सिंह और चमकौर सिंह ने 5 लाख रुपए देकर सोने की ईंट उनसे ले ली। बाद में जांच करने पर पता चला कि सोना तो नकली है। वह तब से उन्हें फोन कर रहे हैं, मगर उनका फोन नंबर ही बंद आ रहा है। घटना भले एक माह पुरानी है और इसकी शिकायत भी उनकी ओर से दे दी गई थी। मगर पुलिस ने अभी तक इस मामले में आपराधिक मामला दर्ज नहीं किया है।

सिंह की तरफ से पुलिस को दी गई शिकायत
सिंह की तरफ से पुलिस को दी गई शिकायत

विधायक उमीदवार से ठगी की खूब चर्चा

जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं, नेता अपने विरोधियों का भंडी प्रचार करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। चमकौर सिंह के साथ हुई ठगी को भी खूब भुनाया जा रहा है और इस घटनाक्रम की खूब चर्चा है। जगह-जगह पर इस बात को उछाला जा रहा है। चमकौर सिंह से इस तरह हुई ठगी की चर्चा पूरे इलाके में है और लोग इस ठगी को लेकर कई तरह की बातें भी बना रहे हैं।

ठगी मुझसे नहीं हुई, मैने तो रिश्तेदार को पैसे उधर दिए

वहीं चमकौर सिंह का कहना है कि ठगी मेरे साथ नहीं हुई है। मैने तो अपने रिश्तेदार सरबजीत सिंह को पैसे उधर दिए हैं। अब उसने पैसों से क्या किया मुझे क्या पता। हां उसने शिकायत दी है और पुलिस ने पूछा कि पैसे कहां से आए तो इसलिए मेरा नाम शिकायत में दिया गया है। संगरूर पुलिस मामले की जांच कर रही है और इसके बाद आपराधिक मामला दर्ज होगा।

खबरें और भी हैं...