लुधियाना में जाली RC बनाने वाले गिरफ्तार:प्रिंटर में PVC कार्ड डाल कर बनाते; जगराओं कोर्ट में सक्रिय था गिरोह; 4 से 9 हजार वसूलते

लुधियाना2 महीने पहले

पंजाब के लुधियाना में कस्बा जगराओं की पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है जो वाहनों की जाली रजिस्ट्रेशन व अन्य कागजात तैयार करता था। ये गिरोह कही और नहीं बल्कि जगराओं की कचहरी में सक्रिय था। आरोपी स्कूटर मोटरसाइकिल कार की जाली आरसी डुप्लीकेट इंश्योरेंस एवं जन्म मौत के जाली सर्टिफिकेट तैयार कर सरकार को लाखों रुपये का चूना लगा रहे थे।

बताया जा रहा है कि पकड़े गए आरोपी कचहरी में एजेंटबाजी का काम करते है। कचहरी में जो लोग अपने काम करवाने आते या चालान आदि का भुुगतान करने आते तो ये लोग उन लोगों को अपना शिकार बनाते थे। लोगों को बातों में लेकर बदमाश जाली कागजात लोगों को तैयार करके देते थे। पुलिस ने इस मामले में 3 नौसरबाजों को गिरफ्तार किया है।

SSP देहात हरजीत सिंह जानकारी देते हुए।
SSP देहात हरजीत सिंह जानकारी देते हुए।

ये सामान पुलिस ने किया बरामद

आरोपियों से पुलिस को 9 वाहनों सहित 5 जाली आरसी, 2 लैपटॉप ,1 कम्प्यूटर, 2 प्रिंटर ,1 हार्ड ड्राइव बरामद की हैं। आरोपी इतने शातिर थे कि PVC कार्ड प्रिंटर में लगाकर नकली आरती तैयार कर देते थे। PVC को यदि ध्यान से देखा जाए तभी पहचान हो पाती थी कि ये आरसी नकली है अन्यथा लोग नकली आरसी को भी असली ही समझते थे।

जिला देहात पुलिस के SSP हरजीत सिंह ने बताया कि CIA स्टाफ पुलिस की SI कमलदीप कौर ने मिली सूचना के आधार पर जाली आरसी एवं डुप्लीकेट इंश्योरेंस बनाने वाले 3 नौसरबाजों को काबू किया था। पकड़े गए 3 आरोपियों से जब CIA स्टाफ पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो पुलिस को पुलिस ने आरोपियों से जाली आरसी एवं डुप्लीकेट इंश्योरेंस तैयार करने वाले सामान के साथ साथ 9 वाहन और 5 जाली आरसी भी बरामद की है।

जिला देहात के SSP हरजीत सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपी तहसील कम्पलैक्स के अंदर बैठे ही अपना यह गोरखधंधा चला रहे थे। उन्होंने बताया कि पकड़ा गया 1 आरोपी जितेंद्र सिंह उर्फ राजा तहसील कॉम्पलैक्स में ही अपने चेंबर में , दूसरा आरोपी जगजीत सिंह उर्फ जग्गा तहसील कम्पलैक्स में प्राइवेट तौर पर टाइपिस्ट का काम करता था एवं तीसरा आरोपी हरप्रीत सिंह उर्फ हैप्पी इंश्योरेंस एजेंट के तौर पर काम करता था।

SSP देहात ने बताया कि पकड़े गए तीनों आरोपी आपसी मिलीभगत के चलते भोले भाले लोगों को गुमराह कर कम रेटों पर उनके वाहनों की जाली आरसी एवं डुप्लीकेट इंश्योरेंस सस्ते रेटों पर तैयार कर देकर सरकार को लाखों रुपये का चूना लगाने का काम करते थे।

निशानदेही पर बरामद सामान

आरोपियों से पूछताछ के बाद उनकी निशानदेही पर 1 छोटा हाथी टाटा एस , 2 मारुति कार,1 सेंट्रो कार ,1 वरना , 2 बुलेट मोटरसाइकिल ,1 बजाज चेतक स्कूटर ,1 होंडा कंपनी की स्कूटरी के इलावा 5 जाली आरसी,जाली आरसी एवं डुप्लीकेट इंश्योरेंस तैयार करने के लिए आरोपियों द्वारा इस्तेमाल किया जाने वाले 2 लैपटॉप,1 कम्प्यूटर , 2 प्रिंटर 1 हार्ड ड्राइव भी बरामद की है।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने तीनों आरोपियों को अदालत में पेश कर उनका 3 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया है और रिमांड दौरान पुलिस को आरोपियों से और भी कई खुलासे होने की संभावना है।

डेढ़ वर्ष से चल रहा था काम,4 हजार से 9 हजार तक वसूलते

पुलिस मुताबिक आरोपी पिछले डेढ़ वर्ष से इस गोरखधंधे में संलिप्त है। आरोपियों से जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह 4 हजार से 9 हजार रुपये तक कागजात के वसूलते थे। बाकी जितने पर ग्राहक सेट हो जाए उतने पर सैटिंग कर लेते थे। डेढ़ वर्ष में लाखों रुपये आरोपी लोगों से ठग चुके थे।

खबरें और भी हैं...