सिंघु बॉर्डर मर्डर में अब किसानों का ‘एक्शन’:किसान संगठनों ने बनाई फैक्ट फाइंडिंग कमेटी, लखबीर की हत्या से जुड़े सभी पहलुओं पर बनाएगी रिपोर्ट

लुधियाना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिंघु बॉर्डर पर बुधवार को मीटिंग करते किसान संगठनों के नेता। - Dainik Bhaskar
सिंघु बॉर्डर पर बुधवार को मीटिंग करते किसान संगठनों के नेता।

सोनीपत के सिंघु बॉर्डर पर 15 अक्टूबर की सुबह पंजाब के युवक लखबीर सिंह की नृशंस हत्या से जुड़े मामले में किसान संगठन अब अपने लेवल पर तथ्यों की पड़ताल करेंगे। निहंगों के बेअदबी करने पर लखबीर को मारने के दावों के बीच किसान संगठनों ने अपनी अलग फैक्ट फाइंडिंग कमेटी गठित कर दी है। इस कमेटी में पांच किसान नेता शामिल किए गए हैं। यह कमेटी इस मामले से जुड़े सभी पहलुओं की अपने लेवल पर जांच करके रिपोर्ट किसान संगठनों के सामने पेश करेगी।

किसान संगठनों ने अपनी फैक्ट फाइंडिंग कमेटी में कंवलप्रीत सिंह पन्नू, बलदेव सिंह सिरसा, काका सिंह कोटड़ा, परगट सिंह जामाराय और जतिंदर सिंह छीना को शामिल किया है। कमेटी गठित करने का फैसला बुधवार को सिंघु बॉर्डर पर हुई किसान संगठनों की बैठक में लिया गया। मीटिंग में किसान नेताओं ने लखबीर की हत्या में सरेंडर करने वाले चारों निहंगों के दल प्रमुख बाबा अमन सिंह से मिलने वाले केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और राष्ट्रीय किसान भलाई राज्यमंत्री कैलाश चौधरी के इस्तीफे की मांग भी की।

भारतीय किसान यूनियन (कादियां) के हरमीत सिंह कादियां के अनुसार, सभी किसान संगठनों से कहा गया है कि वह केंद्र सरकार की ओर से रची जा रही साजिशों के बारे में किसानों को जागरूक करें। मीटिंग में हरमीत सिंह कादियां के अलावा बलवीर सिंह राजेवाल, बूटा सिंह बुर्जगिल, रुलदू सिंह मानसा, निर्भय सिंह ढुड्‌के भी शामिल रहे।

पंजाब की SIT करेगी लखबीर के मर्डर की जांच:बेअदबी हुई या नहीं? यह भी पता लगाएगी ADGP वरिंदर कुमाार की अगुवाई में 3 मेंबरी टीम

लखीमपुर में मरे किसानों की अस्थियों के साथ कलश यात्रा करेंगी यूनियनें
किसान संगठनों की मीटिंग में यह फैसला भी लिया गया कि यूपी के लखीमपुर खीरी में भाजपा नेताओं द्वारा गाड़ी से कुचलकर मारे गए किसानों की अस्थियों को कीरतपुर साहिब, गोइंदवाल साहिब और हुसैनीवाला में 24 अक्टूबर को जलप्रवाह किया जाएगा। इसके लिए पंजाब के माझा, मालवा और दोआबा एरिया में कलश यात्राएं निकाली जाएंगी। इसके लिए मीटिंग में ही किसान जत्थेबंदियों की ड्यूटियां लगा दी गईं।

मंडियों में किसानों की परेशानी खत्म नहीं हुई तो संघर्ष तेज करेंगे
किसान संगठनों ने अपनी मीटिंग में कहा कि पंजाब-हरियाणा की अनाज मंडियों में किसानों को परेशान होना पड़ रहा है। धान 19% नमी के साथ खरीद करने और उसे शैलरों में लगाने की मांग की गई। प्राइवेट गन्ना मिलों को तुरंत पेमेंट के लिए बाउंड करने की हिदायत देने, DAP खाद की ब्लैक रोकने के लिए सोसायटियों और प्राइवेट दुकानों पर खाद की सप्लाई यकीनी बनाने की मांग भी राज्य सरकारों से की गई।

पहले से विवादों में बाबा अमन:गांजा तस्करी समेत 5 केस हैं दर्ज, लखबीर की हत्या में सरेंडर करने वाले चारों निहंग इन्हीं के दल के

सिंघु बॉर्डर पर मारे गए लखबीर का नया वीडियो:शरीर पर घाव नहीं, टांगें बंधी हुईं; 30 हजार रुपए मिलने की बात मानी, दिया मोबाइल नंबर

खबरें और भी हैं...