पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खन्ना से खबर:किसानों ने 300 ट्रैक्टरों पर निकाला रोष मार्च खन्ना से मंजी साहिब तक लगा रहा ट्रैफिक जाम

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • खन्ना से गुजरने वाले वाहन चालकों को करीब 4 घंटे तक जाम की स्थिति का करना पड़ा सामना

खन्ना शहर ट्रैक्टर सिटी बना रहा। खन्ना ब्लाॅक के करीब 67 गांवों से किसान अपने ट्रैक्टरों पर खन्ना रेलवे स्टेशन पहुंचे। जिसके बाद रेलवे स्टेशन पर महीनोें से धरने पर बैठे किसानों के साथ पूरे शहर में ट्रैक्टर मार्च निकाला गया। ट्रैक्टर मार्च में करीब 300 ट्रैक्टर शामिल हुए। जो ललहेड़ी रोड चौक पुलिस मुख्यालय व मार्कफेड से होती हुई गांव लिबड़ा तक पहुंचे। सुबह साढ़े दस बजे से शुरू हुए मार्च के चलते खन्ना से लेकर पीछे मंजी साहिब तक करीब 14 किलोमीटर एरिया में दोनों साइड पर जाम की स्थिति बनी रही। पुलिस को बीजा से ट्रैफिक को समराला की तरफ डायवर्ट करना पड़ा। खन्ना शहर से गुजरने वाले वाहन चालकों को करीब 4 घंटे तक जाम की स्थिति का सामना करना पड़ा।

20 को ट्रैक्टरों का काफिला होगा रवाना-कृषि कानूनों को लेकर किसान यूनियनों द्वारा जारी किसान आंदोलन के दौरान जिला स्तर पर ट्रैक्टर रैलियां निकाल विभिन्न किसान जत्थेबंदियों के साथ किसान-मजदूर सड़कों पर उतरे। शांतिमय तरीके से अपने ट्रैक्टरों पर किसान मजदूर एकता यूनियन और भारतीय किसान यूनियन के बैनर लगाकर रेलवे स्टेशन से एक बड़े काफिले के रूप में ट्रैक्टर रैली इलाके में निकाली गई। भारतीय किसान यूनियन के प्रांतीय प्रधान राजिंदर सिंह बेनीपाल और यूथ प्रधान गुरदीप सिंह भट्टी ने कहा कि देश के अन्नदाता को बार-बार मीटिंग के जरिए केंद्र सरकार बेइज्जत कर रही है।

इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जब तक केंद्र सरकार इन खेती कानूनों को रद्द नहीं करती, तब तक किसान संघर्ष करता रहेगा। उन्होंने बताया कि कृषि कानूनोंं के विरोध में अब 20 जनवरी को दिल्ली के लिए बड़ा ट्रैक्टरों का काफिला रवाना होगा। इसके बाद 26 जनवरी को दिल्ली में झंडा लहराया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें