चिंता का कारण:कैसे लड़ेंगे तीसरी लहर से, 8 लाख ने नहीं लगवाई दूसरी डोज; पहली डोज का भी कोई फायदा नहीं होगा

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • पहली डोज से 50 फीसदी ही तैयार होती है एंटीबॉडी, दूसरी डोज लगवाने में बताए गए समय से ज्यादा गैप डाला तो पहले इंजेक्शन का भी नहीं कोई फायदा

नए वेरिएंट के कारण हर कोई चिंता में है। फिर भी आम लोग वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने से गुरेज कर रहे हैं। लेकिन जो लोग पहली डोज लगवा चुके हैं और दूसरी डोज लगवाने में तय समय से भी ज्यादा गैप डाल रहे हैं उन्हें ये समझना होगा कि ऐसे में पहली डोज का भी कोई फायदा नहीं होगा।

सेहत विभाग के वैक्सीनेशन ड्राइव के नोडल अफसर डॉ. पुनीत जुनेजा ने बताया कि कोविड-19 से बचाव के लिए लग रही वैक्सीन की पहली डोज से 50-60 फीसदी तक एंटीबॉडी बनती है जबकि दूसरी डोज के बाद 80-90 फीसदी की एंटीबॉडी बनती है। जिले में 8 लाख के तकरीबन वो लोग हैं जिन्होंने अपना दूसरी डोज का समय पार कर दिया है। ऐसे में अगर ये लोग और भी ज्यादा गैप डालेंगे तो इनकी पहली डोज का भी कोई फायदा नहीं रह जाएगा।

जरूरी बात- पहली डोज से 50 फीसदी ही तैयार होती है एंटीबॉडी, दूसरी डोज लगवाने में बताए गए समय से ज्यादा गैप डाला तो पहले इंजेक्शन का भी नहीं कोई फायदा

सेहत विभाग के मुताबिक दूसरी डोज का समय पार करने वाले लाभार्थियों को रोजाना कॉलिंग कर वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने के लिए कहा जा रहा है। यहां तक कि पास की सेशन साइटें भी बताई जा रही हैं लेकिन लोगों द्वारा अभी वैक्सीन की दूसरी डोज न लगवाने की बात कही जा रही है कारण पूछने पर कोई सही जवाब नहीं दे रहा।

कोविड का 1 मरीज, डेंगू के 8 नए केस

बुधवार को कोविड का 1 नया मरीज मिला जो बाहरी जिले से है। जिले में अब तक 87664 मरीजों में से 85520 स्वस्थ हो चुके हैं। अन्य जिलों के 11742 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिल चुकी है। 6 एक्टिव केस हैं और 1060 की मौत हुई है। बुधवार को जिले में डेंगू के 8 नए मरीज मिले। इनमें से 5 लुधियाना और 3 बाहरी जिलों व राज्यों के हैं। वीरवार को जिले में 108 सेशन साइट्स पर वैक्सीनेशन कैंप लगेंगे।

कोरोना मृतकों के आश्रित एक्स-ग्रेशिया के लिए एसडीएम दफ्तर में दें अर्जी

अब कोरोना मृतकों के आश्रित 50 हजार की एक्स ग्रेशिया के लिए उप-मंडल मजिस्ट्रेट(एसडीएम) दफ्तर में अर्जी दे सकते हैं। एडीसी (शहरी विकास) संदीप कुमार ने बताया कि इस संबंधी फॉर्म वेबसाइट ludhiana.nic.in से डाउनलोड किया जा सकता है। दावेदार को अर्जी एक फॉर्म के जरिए अपने संबंधित उप-मंडल मजिस्ट्रेट को विशेष दस्तावेजों समेत जमा करवानी पड़ेगी।

खबरें और भी हैं...