कैप्टन अमरिंदर सिंह की राह पर चले CM चन्नी:किया वही काम जिससे पूर्व CM से नाराज थे विधायक-मंत्री; शहर में लगे बड़े-बड़े होर्डिंग, गिनाए वह काम जिनका अभी ऐलान

लुधियानाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी भी पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की राह पर चल पड़े हैं। वे वही काम कर रहे हैं, जिसे करने पर मंत्री और विधायक पूर्व सीएम से नाराज हो गए थे। लुधियाना शहर में बड़े-बड़े होर्डिंग्स लग गए हैं, जिन पर सिर्फ चन्नी चमक रहे हैं। कभी इन बोर्डों पर कैप्टन अमरिंदर सिंह की फोटो हुआ करती थी। मगर मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद वह इन बोर्डों से गायब नहीं हुए, बल्कि पार्टी के बोर्डों से भी उनकी फोटो गायब हो गई है। उन पर अब चन्नी की फोटो नजर आती है।

यह बोर्ड सरकार की तरफ से लगाए गए हैं और इस पर लाखों रुपए खर्च किए जाते हैं। लेकिन इस पर विरोधी पार्टियों को एतराज है। उनका कहना है कि सरकार जो काम कर रही है और वह सभी का टीम वर्क है। अगर इतने काम किए गए होते तो कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से हटाया ही नहीं जाना था और अब चन्नी जो कर रहे हैं, वह भी सभी को दिख रहा है। वहीं कैप्टन की तरह सिर्फ चन्नी चमक रहे हैं, बाकी की टीम का तो कहीं नाम ही नहीं।

शहर के आर्ती सिनेमा चौक पर लगा मुख्यंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का बोर्ड।
शहर के आर्ती सिनेमा चौक पर लगा मुख्यंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का बोर्ड।

वह काम गिनाए, जिनका अभी ऐलान ही हुआ

इन बोर्ड की खास बात यह है कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के समय हुए कामों को इन होर्डिंग्स पर दर्शाया नहीं गया है। शायद कैप्टन सरकार के कार्यकाल में हुए उन कामों को चन्नी सरकार काम ही नहीं मानती है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री ने अपने गिने चुने कामों को ही इस पर जगह दी है और काम भी वह गिनाए गए हैं, जिनका अभी ऐलान ही हुआ है। जैसे कपास की तबाह हुई फसल का मुआवजा देने की बात कही गई है, मगर अभी इसकी गिरदावरी ही चल रही है। अकाली दल की तरफ से रविवार को ही इसके लिए विरोध प्रदर्शन किया गया है। यही नहीं हॉकी खिलाड़ियों को नौकरी देने की बात कही गई है, जबकि अभी इसका भी ऐलान ही हुआ है। ध्यान देने की बात यह है कि पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह की अकेले फोटो होती थी, अब चनणजीत सिंह चन्नी की आम लोगों के साथ फोटो है।

फिरोजपुर रोड पर लगा बोर्ड।
फिरोजपुर रोड पर लगा बोर्ड।

कैप्टन की तरह अकेले ही चमक रहे हैं चन्नी
पिछली सरकार के समय मंत्री और विधायक कैप्टन अमरिंदर सिंह से इसी बात को लेकर नाराज थे कि वह सरकार के बोर्ड पर अपनी फोटो ही लगवाते हैं। इस बार भी अकेले चरणजीत सिंह चन्नी की फोटो लगी है। किसी मंत्री या विधायक को जगह नहीं दी गई है। यहां तक कि उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा और ओपी सोनी को भी इन बोर्डों पर जगह नहीं दी गई है।

लोगों के लिए खजाना खाली, बोर्डों पर लगाए लाखों- ढिल्लों शिरोमणि अकाली दल के जिला अध्यक्ष रणजीत सिंह ढिल्लों का कहना है कि लाखों रुपए इन बोर्डों पर खर्च किए जा रहे हैं। मगर लोगों की सहूलियत का कोई काम नहीं किया जा रहा है। जब विकास की बात आती है कि तो सरकार के पास एक ही जवाब होता है कि खजाना खाली है। अगर पैसे नहीं हैं तो मात्र ऐलान करके वाहवाही क्यों लूटी जा रही है।

वाहवाही की क्या जरूरत, काम करेंगे तो लोगों को पता चल ही जाएगा- मोही 'आप' नेता अमन मोही का कहना है कि सरकार लाखों रुपए अपने काम गिनाने में खर्च कर रही है। अगर काम किए हैं तो लोगों को पता चल ही जाएंगे। इसमें हल्ला करने की क्या जरूरत है। इससे सरकार की किरकरी हो रही है। कपास की फसल की गिरदावरी के तुरंत बाद मुआवजा क्यों नहीं दिया जा रहा है। हॉकी खिलाड़ियों को नौकरी देने का अभी ऐलान भर हुआ है और वाहवाही पहले ही लूटी जा रही है।

खबरें और भी हैं...