पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्रवाई शून्य:निगम की हद से बाहर काॅलोनियों के अवैध सीवरेज कनेक्शन काटने-रिकवरी के थे आदेश

लुधियाना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • हाउस मीटिंग में 10 नवंबर को उठाए मुद्दों पर नगर निगम कितना संजीदा जानिए

(दिनेश वर्मा) नगर निगम हद से बाहर की गलाडा के एरिया में आती काॅलोनियों की ओर से सीवरेज कनेक्शन निगम के सीवरेज में इलीलगल तरीके से कनेक्ट करने का मामला हाउस मीटिंग में 9 दिन पहले पार्षदों ने प्रमुखता से उठाया था। इस संबंध में निगम कमिश्नर प्रदीप कुमार सभ्रवाल ने अगले ही दिन से रिकवरी और कनेक्शन काटने के आदेश जारी कर दिए थे। लेकिन न तो अभी तक कोई रिकवरी हुई और न ही किसी पर कोई एक्शन लिया गया है।

विभागीय तर्क ये सामने आया है कि सर्वे करने के बाद गलाडा को नोटिस जारी करने की तैयारी कर रहे हैं। इललीगल कनेक्शन के चलते निगम के ही आउटर वाॅर्डों में सीवरेज ओवरफ्लो और गंदे पानी की सप्लाई की समस्या बरकरार है। इतना ही नहीं डिस्चार्ज बढ़ने के कारण निगम के एसटीपी भी फेल साबित हो रहे हैं।

हाउस में ये मुद्दा सीनियर अकाली कौंसलर हरभजन सिंह डंग और जसपाल सिंह गयासपुरा ने उठाया तो बात सामने आई थी कि इललीगल कनेक्शनों से रिकवरी की जाए तो 200 करोड़ से भी ज्यादा पैसे निगम के खाते में आएंगे। फंड की कमी का रोना रो रहा निगम इस रकम से मियाद पूरी कर चुका चांद सिनेमा पुल बनवा सकता जो तीन साल पहले अनसेफ घोषित कर भारी वाहनों के लिए बंद किया जा चुका है। इसके साथ ही नई डेलवपमेंट के लिए निगम को 100 करोड़ लोन भी नहीं लेना पड़ेगा।

अवैध सीवरेज कनेक्शन जुड़ने से ये हो रहा नुकसान

निगम के अपने सीवरेज सिस्टम बाहरी काॅलोनियों का डिस्चार्ज लोड सहन नहीं कर पा रहा है। निगम के एसटीपी की पानी ट्रीट करने की कैपेसिटी 500 एमएलडी के करीब है। जबकि ये तथ्य सामने आ चुके हैं कि 750 एमएलडी पानी ट्रीट करने के लिए आ रहा है। यही कारण है कि शहरवासियोें के लिए लगाए गए एसटीपी बाहरी काॅलोनियों के सीवरेज कनेक्शन के जुड़ने से बढ़ चुके लोड को सहन नहीं कर पा रहे हैं और लगातार जांच में ये फेल ही साबित हुए हैं।

निगम पर रसूखदार नेताओं, काॅलोनाइजरों का दबाव

निगम अधिकारियों की मेहरबानी से गलाडा और उसके अधीन आती काॅलोनियों के कनेक्शन निगम के सीवरेज से जुडे हैं। अवैध तरीके से कनेक्शन जुड़ने के पीछे कारण ये है कि रसूखदार नेताओं की अपनी काॅलोनियों और उनके नजदीकि कालोनाइजरों का निगम अधिकारियों पर पूरा दबाव है। इसी के चलते निगम अधिकारी रिकवरी करने और कनेक्शन काटने की कार्रवाई से कतरा रहे हैं, जबकि इन खामियों का भुगतान शहरवासियों काे ही करना पड़ रहा है।

गलाडा के एरिया में 1500 अवैध काॅलाेनियां

ग्रेटर लुधियाना डेवलपमेंट अथॉरिटी यानी गलाडा ने अपनी वेबसाइट पर इललीगल और लीगल काॅलोनियों की सूची डाल रखी है। करीब 1500 काॅलोनियों इललीगल हैं। जिनका कोई रिकाॅर्ड ही नहीं है कि उनका सीवरेज का कनेक्शन आखिर कहां है। क्योंकि इललीगल काॅलोनियों में सीवरेज ट्रीटमेंट नहीं लगाए गए हैं।

इससे साफ जाहिर है कि ज्यादातर काॅलोनियों का सीवरेज कनेक्शन नगर निगम के सीवरेज कनेक्शन से कनेक्ट है। वहीं, दूसरी तरफ गलाडा की मंजूरीशुदा काॅलोनियों का भी सीवरेज कनेक्शन निगम के सीवरेज कनेक्शन से जुड़ा हुआ है, जिसका बाकायदा निगम की तरफ से 31 करोड़ का डिमांड नोटिस गत वर्ष जारी किया था, जिसकी रिकवरी आज तक नहीं की जा सकी।

ये फायदे: पुरानी सीवरेज लाइनों को अपग्रेड करने समेत कई प्रोजेक्ट होंगे पूरे

  • रिकवरी के पैसों से चांद सिनेमा निकट बुड्‌ढे नाले पर खस्ता हालत में पुल का निर्माण नए सिरे से किया जा सकेगा।
  • नई डेलवपमेंट के लिए निगम 100 करोड़ का लोन लेने की बात कर रहा है, अगर रिकवरी होती है तो 100 करोड़ का लोन लेने की जरूरत नहीं होगी।
  • सिटी की पुरानी सीवरेज लाइनों को अपग्रेड किया जा सकेगा।
  • आउटर इलाकों में सबसे ज्यादा सीवरेज जाम की समस्या है। नया विकल्प ढूंढते हुए रिकवरी के आए पैसों से अच्छी डेवलपमेंट की जा सकेगी।
  • पुराने खस्ता हालत में पड़े पार्कों की मरम्मत की जा सकेगी।
  • पुलों की रिपेयरिंग के लिए अलग से खर्च का पैसा बचेगा।

किया जाएगा सर्वे
गलाडा को रिकवरी के लिए फाइनल लेटर जारी करने जा रहे हैं, जिसमें 31 करोड़ की रिकवरी का जिक्र होगा। वहीं, इललीगल कनेक्शनों के लिए सर्वे किया जाएगा, जिसके कनेक्शन जांच में सामने आएंगे, उनके कनेक्शन काट दिए जाएंगे। जबकि रिकवरी भी की जाएगी।

-रविंदर गर्ग, एसई, ओएंडएम ब्रांच

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें