• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Indefinite Strike Of 108 Ambulance Workers, All 42 Ambulances Of The District Parked In The Civil Hospital Late At Night

अनिश्चितकालीन हड़ताल:108 एंबुलेंस मुलाजिमों की अनिश्चितकालीन हड़ताल, देर रात सिविल अस्पताल में खड़ी की जिले की सभी 42 एंबुलेंस

लुधियाना12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिविल अस्पताल में रात 11.30 बजे प्रदर्शन करते 108 एंबुलेंस यूनियन के सदस्य। - Dainik Bhaskar
सिविल अस्पताल में रात 11.30 बजे प्रदर्शन करते 108 एंबुलेंस यूनियन के सदस्य।
  • तीन माह से वेतन न मिलने व रेगुलर करने की मांग को लेकर किया जा रहा है विरोध प्रदर्शन
  • जब तक मांगें मानी नहीं जाती तब तक जारी रहेगी हड़ताल, मरीजों को हो सकती है परेशानी

रेगुलर करने की मांग और पिछले 3 महीनों से जेडएचएल कंपनी द्वारा तनख्वाह न जारी करने के विरोध में 108 एंबुलेंस यूनियन ने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी। सिविल अस्पताल में देर रात 11.30 बजे यूनियन ने प्रदर्शन शुरू कर किया। प्रदर्शन के दौरान अस्पताल के अंदर सभी 42 एंबुलेंस लाकर खड़ी कर दी और कंपनी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।

यूनियन के प्रधान रणजोध सिंह ने बताया कि कंपनी के साथ कई बार बात करने के बाद भी हल नहीं निकल रहा। वहीं, बठिंडा में यूनियन के लोगों पर पुलिस के जरिए दबाव बनाया जा रहा है। लंबे समय से तनख्वाह न मिलने के कारण ये कदम उठाना पड़ा। जिले में 42 से भी ज्यादा एंबुलेंस हैं। फिलहाल के लिए सेवाएं नहीं दी जाएंगी। कंपनी द्वारा मांगें मान ली जाएंगी तो हड़ताल खत्म कर दी जाएगी।

जब तक मांगें मानी नहीं जाती तब तक जारी रहेगी हड़ताल, मरीजों को हो सकती है परेशानी

बीते तीन महीने से ज्यादा समय से एंबुलेंस के पायलट व एमरजेंसी मेडिकल टेक्निशियन (ईएमटी) बिना तनख्वाह लिए काम कर रहे हैं। अब इन पायलट व ईएमटी ने अपनी मांगों को मनवाने के लिए प्रदर्शन शुरू कर दिया है। विरोध करने वाले 108 एंबुलेंस के पायलट और ईएमटी ने स्पष्ट किया कि जबतक कंपनी उनकी मांगे नहीं मानेगी तब तक हड़ताल जारी रहेगी जिससे मरीजों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

जिले की 42 एंबुलेंस पर 160 कर्मी तैनात

जिले में 42 एंबुलेंस चल रही हैं जिन पर करीब 160 कर्मचारी तैनात हैं जिनमें से पायलट व ईएमटी है। इनको बीते 3 महीने से कंपनी द्वारा कोई तनख्वाह नहीं दी गई। उन्होंने बताया कि 5 सालों से कंपनी के साथ जुड़े कर्मचारियों की आज तक तनख्वाह नहीं बढ़ाई गई है। अब कंपनी ने तनख्वाह भी बंद कर दी और बिना तनख्वाह के कोई भी कर्मचारी काम नहीं करना चाहता।

खबरें और भी हैं...