पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बदलाव:1 अक्टूबर से सिर्फ 4 सरकारी अस्पतालों में होगा कोविड का इलाज, 400 बेड्स रिजर्व

लुधियाना9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।
  • सरकारी अस्पतालों में कम मरीजों के चलते प्रशासन ने बदली स्ट्रेटजी

जिले में अब 4 सरकारी हॉस्पिटल्स में ही कोविड के मरीजों का इलाज किया जाएगा। हाल ही में जिला स्तर पर हुई मीटिंग में ये निर्णय लिया गया है। इनमें 400 बेड रिजर्व किए गए हैं। जहां कोविड के मरीज रखे जाएंगे। हालांकि इस निर्णय से ये भी खतरा जताया जा रहा है कि अगर जिले में पहले की ही तरह एकाएक ज्यादा केस आने शुरू होते हैं तो मरीजों को कहां पर रखा जाएगा।

जिला प्रशासन के मुताबिक सभी सामान को सुरक्षित रखा जाएगा जिससे कि जरूरत पड़ने पर 48 घंटों में इन्हें फिर से शुरू किया जा सके। वहीं, परमानेंट और कॉन्ट्रेक्ट मुलाजिमों का सिविल सर्जन लुधियाना द्वारा अन्य जगहों पर सही इस्तेमाल किया जाएगा। अब सिविल में लेवल-2 के 150 बेड, यूसीएचसी वर्धमान में लेवल-2 के 100 बेड, मैरिटोरियस स्कूल में लेवल-1 के 100 बेड, कुलार नर्सिंग में 50 ऑक्सीजन वाले बेड रिजर्व रखे गए हैं। जबकि पहले अन्य सरकारी अस्पतालों को मिलाकर 2100 बेड्स की व्यवस्था थी। ये आदेश 1 अक्टूबर से लागू होंगे।

निजी अस्पतालों में जारी रहेगा इलाज

‘पिछले कुछ दिनों से केस कम आ रहे हैं। सरकारी हॉस्पिटल्स में भी कुल 88 मरीज एडमिट हैं। जिले में वेंटिलेटर पर भी पहले 42 तक भी मरीज गए हैं। इस संख्या में भी गिरावट हो रही है। 29 जुलाई से 4 सितंबर तक हर हफ्ते 113 के तकरीबन मौतें हो रही थी। अब 70 के तकरीबन हुई हैं। इसलिए ये निर्णय लिया गया है कि फिलहाल कोविड-19 के इलाज के लिए चार ही सरकारी हॉस्पिटल्स चलाए जाएंगे। अन्य सरकरी हॉस्पिटल्स में कोविड-19 का इलाज बंद किया जा रहा है ताकि यहां की बिल्डिंग और स्टाफ का पूरा इस्तेमाल किया जा सके और मरीजों के लिए अन्य सुविधाएं शुरू हो सकें। प्राइवेट हॉस्पिटल्स के लिए अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है वो हॉस्पिटल प्रबंधन पर निर्भर है। - वरिंदर कुमार शर्मा, डिप्टी कमिशनर, लुधियाना

14 मौतें, 212 पॉजिटिव केस

बुधवार को जिले में 212 पॉजिटिव केस सामने आए। इसमें से जिले के 184 संक्रमित रहे और 28 केस अन्य जिलों व राज्यों से संबंधित हैं। वहीं, 14 संक्रमितों की मौत हुई। इसमें से लुधियाना के 11 और अन्य जिलों व राज्यों के 3 मरीज रहे। लुधियाना के अब तक कुल 16783 मरीज पॉजिटिव हो चुके हैं। जिसमें से 14583 रिकवर भी कर चुके हैं। जिले में अब सिर्फ 1509 ही एक्टिव केस हैं। वहीं, 690 मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, 36 मरीज वेंटिलेटर पर हैं। अन्य जिलों व राज्यों से अब तक 1980 मरीजों की रिपोर्ट पॉजीटिव आ चुकी है। जिसमें से 249 एक्टिव केस हैं और 209 मरीजों की मौत हो चुकी है।

कांग्रेसी नेता मंड का पूर्व गनमैन भी संक्रमित

बुधवार को पॉजिटिव आए केस में कांग्रेसी नेता गुरसिमरन सिंह मंड के पूर्व गनमैन सहित 10 पुलिस मुलाजिमों की रिपोर्ट पॉजीटिव रही है। इनमें पुलिस लाइन से 3 पुलिस मुलाजिमों और एसीपी लाइसेंसिंग के दो रीडर की रिपोर्ट भी पॉजीटिव रही है। नए पॉजिटिव केस में 7 हेल्थ केयर वर्कर और 2 गर्भवतियों की रिपोर्ट पॉजिटिव रही।

सेंट्रल जेल में बंदी की मौत

तीन दिन बाद 10 से ज्यादा मौतें हुई हैं। इनमें 3 मरीज 80 से ज्यादा उम्र, 3 मरीज 60 से ज्यादा उम्र के रहे। वहीं, 5 पुरुष और 6 महिलाएं रहीं। सेंट्रल जेल में बंदी 36 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई। जोकि हैपेटाइटिस सी से पीड़ित था और सिविल हॉस्पिटल में उसका इलाज चल रहा था।

खबरें और भी हैं...