गैंगस्टर सुक्खा फरीदकोट के नाम पर फिरौती मांगने का मामला:मामा ने किया था डाॅक्टर को फोन, भांजा लेने पहुंचा पैसे, दोनों 9 तक रिमांड पर

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गैंगस्टर सुक्खा फरीदकोटिया के नाम पर जगराओं के चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉक्टर अमित चक्रवर्ती को धमकी भरा फोन करने वाले दोनों आरोपियों को देहात पुलिस ने अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए 9 अगस्त तक रिमांड लिया है। इस दौरान आरोपियों ने बताया कि वह दोनों ही 12वीं तक पढ़े हैं।

एएसआई प्रीतम मसीह ने बताया कि अभी तक पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि डाॅक्टर अमित चक्रवर्ती को फोन दिल्ली के रहने वाले इंदरपाल सिंह ने किया और पैसे लेने भांजा गुरचरण सिंह आया था। क्योंकि भांजा जगराओं का निवासी होने के कारण शहर के हर रास्ते को जानता था। इतना ही नहीं डाक्टर से पैसे मांगने से पहले इसकी पूरी तैयारी की थी। जिसके चलते पहले डाॅक्टर का अस्पताल देखा और डाॅक्टर को पहचानने के लिए उसकी फोटो भी देखी।

ताकि, जब वह पैसे देने आए तो वह उसे पहचान सके। पुलिस अधिकारी ने बताया दिल्ली निवासी आरोपी इंदरपाल सिंह एसी रिपेयर का काम करता है और जबकि उसका भांजा गुरचरण सिंह जगराओं में टेलर का काम करता था। उन्होंने कहा कि आरोपियों पर पहले तो कोई मामला दर्ज नहीं है। लेकिन, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

और यह भी पता कर रही है आरोपियों ने पहले किसी और से इस तरह फिरौती तो नहीं मांगी। बता दें कि एक व्यक्ति ने खुद को गैंगस्टर सुखा फरीदकोटियां बताते हुए जगराओं के चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉ. अमित चक्रवर्ती पुत्र मिलन चक्रवर्ती निवासी गांव अगरतला त्रिपुरा, जिला वेस्ट त्रिपुरा, हाल वासी चक्रवर्ती अस्पताल सुआ रोड जगराओं को फोन पर धमकी देते हुए कहा कि वह जेल से गैंगस्टर सुखा फरीदकोट वाला बोल रहा हूं और पांच लाख की फिरौती मांगी थी।

इसकी सूचना मिलते ही पुलिस में हड़कंप मच गया था और पुलिस ने आनन फानन में सुखा फरीदकोट व एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। लेकिन, मामले में उस समय माेड़ आ गया जब पुलिस ने फोन करने वाले और पैसे लेने आए व्यक्ति को पकड़ लिया।

पुलिस ने इस मामले में आरोपी मामा इंदरपाल सिंह पुत्र गियान निवासी चंदर विहार नई दिल्ली भांजा गुरचरण सिंह पुत्र कुलतार सिंह निवासी अगवाड़ ख्वाजा बाजू जगराओं को काबू कर लिया। अब पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि आरोपियो का गैंगस्टर सुखा फरीदकोट के साथ कोई लिंक है या नहीं।

गैंगस्टरों के नाम पर मांगते हैं फिरौती
जगराओं जेलों में बंद गैगस्टरों के नाम पर फिरौती मांगने का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी जगराओं के कई लोगों से फोन पर फिरौती मांगी गई करीब 24 दिन पहले भी इसी तरह शहर के नामी समाजसेवी संस्था के चेयरमैन समाजसेवी कपिल नरूला को भी किसी व्यक्ति ने फोन कर खुद को सुखा फरीदकोट बता कर 20 लाख की फिरौती मांगी थी। इतना ही नहीं पैसे ना देने की सूरत में उसके बच्चों को जान से मारने की धमकी दी थी।

खबरें और भी हैं...