पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Nasha De Saheli Got Physical Relation With Friend, Then Pushed Into Prostitution, Ran To The Station, Child Helpline Introduced Family Members

दरिंदगी:नशा दे सहेली ने दोस्त से बनवाए शारीरिक संबंध, फिर देह-व्यापार में धकेला, भागकर स्टेशन पहुंची, चाइल्ड हेल्पलाइन ने घरवालों से मिलाया

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मां-बाप के झगड़े से परेशान हो फाजिल्का से ट्रेन में लुधियाना पहुंची थी नाबालिग

फाजिल्का से लुधियाना आई नाबालिग(16) को नशे की ओवरडोज देकर पहले दोस्त और फिर देह-व्यापार के धंधे में धकेलने के मामले में दर्ज हुई एफआईआर में थाना दुगरी पुलिस ने आरोपी कोटमंगल निवासी राजनदीप सिंह उर्फ गगन, अशीष मसीह उर्फ आशु और रमनदीप कौर उर्फ सिमरन, सुनीता को गिरफ्तार किया है। एडीसीपी जसकिरणजीत सिंह तेजा ने बताया कि पीड़िता ने अपने बयानों में लिखवाया था कि वो फाजिल्का के गांव लाधुका की रहने वाली है और उसके मां-बाप के झगड़े की वजह से वो अपनी मां के साथ मामा के घर रहने लगी थी।

10 सिंतबर 2019 को उसकी मां ने उसे डांट दिया था, जिसके बाद वो घर से स्टेशन गई और ट्रेन से लुधियाना पहुंच गई। जहां स्टेशन पर रमनदीप कौर मिली। रमनदीप ने बातचीत कर उससे दोस्ती कर ली और अपने घर दुगरी ले गई। उसे रमनदीप नशे करवाने लगी। इस दौरान रमन का प्रेमी गगन उनके घर पर आता था। एक दिन रमन डेढ़ महीने के लिए कहीं चली गई और गगन को पीड़िता की रखवाली के लिए रख गई। इस दौरान आरोपी उसे नशे का इंजेक्शन देता रहा और उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। जब रमनदीप वापस आई तो उसने आते ही पीड़िता को टिब्बा रोड निवासी सुनीता नाम की महिला को सौंप दिया।

पुलिस ने चारों आरोपियों को किया गिरफ्तार

सुनीता भी उसे नशा देने लगी और देह-व्यापार में धकेल दिया। जो पैसे मिलते वो खुद रखती जा रही थी। एक दिन पीड़िता जब कुछ होश में थी तो वो वहां से भागकर स्टेशन पर गई। जहां उसे चाइल्ड हेल्पलाइन की टीम मिली। लेकिन पीड़िता ने उन्हें कुछ नहीं बताया। टीम ने नाबालिगा को दोराहा स्थित चाइल्ड केयर में रहने के लिए भेज दिया और उसके परिवार को इतलाह कर दी।

14 फरवरी 2020 को परिवार दोराहा आया और वो नाबालिगा को अपने साथ फाजिल्का ले गए। जहां पहुंचने पर पीड़िता ने सारी बात अपनी मां को बताई। फिर परिवार ने फाजिल्का पुलिस को सूचना दी। फाजिल्का पुलिस ने जीरो नंबर एफआईआर दर्ज कर लुधियाना थाना दुगरी की पुलिस को सूचित किया। लुधियाना पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। 

स्पेशल टीम ने की इंवेस्टिगेशन: मामले की जांच पंजाब ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन को सौंपी गई। जिसकी जांच एडीसीपी आईपीएस डाॅ. सचिन गुप्ता, एडीसीपी जसकिरणजीत सिंह और एसीपी जशनदीप सिंह ने की। जिन्होंने पांच माह बाद चारों आरोपियों को काबू कर लिया। आरोपियों ने बताया कि वो नशा लेकर आते थे और वही पीड़िता को करवाते थे। आरोपियों को तीन दिन के रिमांड पर लिया है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें