सिद्धू के कैप्टन को कहे शब्द शर्मनाक:कांग्रेसी सांसद बिट्‌टू बोले- मैं सहमत नहीं; सिद्धू और सीएम से अब हरीश चौधरी बैलों की तरह काम लेंगे

लुधियाना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लोगों से बातचीत करते रवनीत बिट्टू। - Dainik Bhaskar
लोगों से बातचीत करते रवनीत बिट्टू।

नवजोत सिंह सिद्धू के कैप्टन अमरिंदर सिंह के लिए बोले गए अमर्यादित बोल से लुधियाना के कांग्रेसी सांसद रवनीत बिट्‌टू सहमत नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हमारी तीन पीढियां राजनीति में हैं मगर हमें ऐसा नहीं सिखाया गया। ठीक है आप राजनीतिक विरोधी हो सकते हैं, मगर शब्दों का चयन सही होना चाहिए। वही शब्द इस्तेमाल किए जाने चाहिए जो आप घर पर भी इस्तेमाल करते हैं, यह बेहद शर्मनाक है।

दैनिक भास्कर से बातचीत करते हुए नवजोत सिंह सिद्धू और चरणजीत सिंह चन्नी की केदारनाथ यात्रा पर किए ट्वीट के बारे में पूछने पर रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि जिस तरह से वह वहां हाथों में हाथ डालकर एकजुटता दिखा रहे थे ऐसी ही एकजुटता पंजाब में भी दिखानी चाहिए। अब हरीश चौधरी आ गए हैं और उमीद है कि अब वह इनसे काम करवा लेंगे।

जैसे दो बैलों को पीछे से किसान काम करवाता है, शायद ऐसे ही, इन्हें जोड़ दिया जाए। हरीश चौधरी तब से यहीं हैं और उन्हें भी पता है कि जिस तरह से ऐलान हो रहे हैं, उन्हें नीचे तक पहुंचाने के लिए हमारे पास संगठन नहीं है और वह नवजोत सिंह सिद्धू से यह काम करवाएंगे। इसकी उन्हें उम्मीद भी है।

अपनी रिहायश पर इलाका निवासियों से मिलते हुए रवनीत सिंह बिट्टू।
अपनी रिहायश पर इलाका निवासियों से मिलते हुए रवनीत सिंह बिट्टू।

कैप्टन अमरिंदर सिंह पर रवनीत बिट्टू का सॉफ्ट कार्नर
कैप्टन अमरिंदर सिंह पर रवनीत सिंह बिट्टू का सॉफ्ट कॉर्नर देखते को मिला है। वह पहले ऐसे नेता हैं जो उन्हें नई पार्टी बनाने पर बधाई दे रहे हैं। उनकी ओर से खुशी भी जाहिर की गई है कि कैप्टन ने अपनी पार्टी में कांग्रेस शब्द को भी रखा है। वह अच्छे नेता हैं, हमने कई चुनाव उनकी अगुवाई में लड़े हैं, मैं तो यूथ कांग्रेस अध्यक्ष भी उनके साथ ही रहा हूं।

रवनीत सिंह बिट़्टू ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के पास पहले दो साल तो सिस्टम को बनाने में ही लग गए और कर्ज इतना था कि 8000 करोड़ की तो रुटीन की देनदारियां ही होती थी। वह कहते हैं कि जब उनके दादा मुख्यमंत्री थे, आतंकवाद का बुरा दौर था, तब पैसा खूब खर्च हो रहा था, तब भी इतना कर्ज नहीं चढ़ा था। पता नहीं कहां से इन लोगों ने कहां से कर्ज चढ़ा दिया है।

लुधियाना अपने गृह में लोगों से मिले रवनीत बिट्टू

दिवाली को लेकर रवनीत सिंह बिट्टू इन दिनों अपनी लुधियाना रिहायश पर ही रहे। इस दौरान उनकी ओर से लोगों से बातचीत की गईं और उनके काम करवाए गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी नेताओं को इसी तरह से लोगों के बीच जाना होगा तभी चुनाव में बढ़िया कारगुजारी होगी।

खबरें और भी हैं...