• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • On Exposing The Names Of The Congressmen Involved In The Sand Mining Of The Captain, He Said, If You Were The CM, Why Did You Not Take Action?

सुखजिंदर रंधावा ने फोड़ा ट्वीट बम:कैप्टन ने रेत खनन में शामिल कांग्रेसियों पर कार्रवाई क्यों नहीं की; कुर्सी के लालच में चुप क्यों रहे

लुधियाना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुखजिंदर सिंह रंधावा। - Dainik Bhaskar
सुखजिंदर सिंह रंधावा।

दीपावली पर सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ ट्वीट बम फोड़ दिया। रंधावा ने कैप्टन के रेत खनन में कांग्रेसियों के नामों का खुलासा करने के दिए बयान पर प्रतिक्रिया दी। रंधावा ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह क्या यह आपकी असमर्थता नहीं थी कि सीएम के रूप में आपने रेत खनन में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की। ऐसा नहीं तो क्या पंजाब के स्वयंभू रक्षक ने अपनी सत्ता की लालसा के लिए राज्य के हितों की अनदेखी की।

जब आपने 2017 में सत्ता की बागडोर संभाली। आपने बिजली समझौते खत्म करने का वादा किया था। काश ! आप अपनी प्रतिबद्धता पर खरे उतरते तो पंजाब के लोगों को स्पष्टीकरण दे पाते। वर्तमान सरकार में बिजली समझौते रद्द करने का साहस था और ​​यह हमारी सरकार द्वारा दिया गया लॉलीपॉप नहीं है।

कभी कैप्टन के बेहद नजदीकियों में शामिल सुखजिंदर रंधावा इन दिनों कैप्टन पर पूरी तरह से आक्रामक हैं। सरकार की तरफ से हाल ही में जीवीके कंपनी और तलवंडी साबो की एक अन्य कंपनी को पीपीए रद्द करने का नोटिस जारी किया है।

सुखजिंदर सिंह रंधावा की तरफ से किया गया ट्वीट
सुखजिंदर सिंह रंधावा की तरफ से किया गया ट्वीट

अरूसा मामले पर कैप्टन ने दिया था जवाब, अब रंधावा उन्हें घेरने के चक्कर में
सुखजिंदर सिंह रंधावा ने ही अरूसा आलम के भारत आने और पंजाब में रहने का मुद्दा उठाया था और कहा था कि वह अरूसा के आईएसआई कनेक्शन की पुलिस से जांच करवाएंगे। इसका जवाब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अरूसा आलम की फोटो सोनिया गांधी के साथ साथ देश के बड़े नेताओं के साथ जारी कर दी थीं। अब जब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रेत खनन का मुद्दा उठाया है कि सुखजिंदर रंधावा इसमें कैप्टन को बैकफुट पर लाने का प्रयास कर रहे हैं। यह ट्वीट उनकी इसी कार्रवाई का हिस्सा है। वह रेत खनन की लिस्ट जारी करने वाले मामले में बैकफुट पर लाना चाहते हैं।

किसी समय सुखजिंदर रंधावा, कैप्टन के थे बेहद नजदीकी

कोई समय था जब कैप्टन अमरिंदर सिंह के सबसे करीबी सुखजिंदर सिंह रंधावा थे। जब कभी भी कैप्टन पर विरोधियों ने कोई बयान दिया तो उसका सबसे ज्यादा विरोध सुखजिंदर सिंह रंधावा ने किया था। यह बात सुखबीर सिंह बादल भी कई बार कह चुके हैं। मगर अब जब कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से हटा दिया गया है और वह नई पार्टी बनाने जा रहे हैं तो उनके सबसे बड़े विरोधी के तौर पर सुखजिंदर सिंह रंधावा ही सामने खड़े हैं। वह कोई मौका नहीं छोड़ते हैं कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को घेरा जा सके।

खबरें और भी हैं...