पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कारनामा:बिजली के 16000 नए कनेक्शनों के आधार पर निगम बिल्डिंग ब्रांच ने लोगों को भेजे नोटिस

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निगम अफसरों को पता ही नहीं शहर में कितनी नई बिल्डिंगें बन रहीं

नगर निगम की चारों जोन के बिल्डिंग ब्रांच के एरिया इंस्पेक्टर समेत एटीपी से लेकर एमटीपी तक को ये नहीं मालूम है कि शहर में कितनी इमारतें नई बन रही हैं। इसका खुलासा खुद निगम की बिल्डिंग ब्रांच के अधिकारियों ने कर दिया है। बिल्डिंग ब्रांच के अधिकारियों का कारनामा ये सामने आया है कि फील्ड में चेकिंग की बजाए, पावरकॉम की तरफ से जारी किए जा रहे नए बिजली कनेक्शनों के आधार पर वहां से एड्रेस लेकर लोगों को नोटिस भेजकर ये डिमांड की जा रही है कि उनकी तरफ से नया मीटर लगवाया गया है, ऐेसे में अपनी इमारत संबंधी सभी कागजात संबंधित जोन के बिल्डिंग ब्रांच में जांच के लिए पेश करें।

ऐसे में भाजपा नेताओं ने भी निगम को घेरते हुए बिल्डिंग ब्रांच के अधिकारियों द्वारा जारी किए नोटिसों के मामले में जोन-डी में विरोध करते हुए इसे वापस लेने के लिए एमटीपी से मिले। इस अवसर पर भाजपा नेता प्रवीण बांसल, इंद्र अग्रवाल समेत दाे शिकायतकर्ता भी मौजूद थे।

भाजपा नेताओं ने पीड़ितों के साथ जताया विरोध, नोटिस वापस लेने की मांग
भाजपा नेताओं ने निगम जोन डी में एमटीपी एसएस बिंद्रा से मुलाकात की तो उन्होंने बताया कि निगम को बिज़ली बोर्ड से पता लगा है कि पिछले कुछ समय में बिज़ली के 16 हज़ार मीटर नए लगे हैं और नक्शे बहुत कम पास हुए हैं। इसलिए नया मीटर लगाने वाले सभी लोगों को यह नोटिस दिए गए हैं ताकि नई इमारत बनाने का जुर्माना लिया जा सके।

इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा नेताओं ने कहा कि निगम अधिकारियों की नाक के नीचे मिलीभगत से ही ऐसी इमारते बनीं और नोटिस बिना अपना रिकॉर्ड या टीएस-1 रजिस्टर या मौका चेक किये सभी को थमा दिए गए हैं। निगम ने बिज़ली बोर्ड का रिकॉर्ड के आधार पर सभी को मुजरिम बना डाला और 16 हजार नोटिस भेज कर कोरोना जैसी महामारी का सामना कर रहे शहरियों के अंदर एक दशहत का माहौल पैदा कर दिया, जिसे भाजपा बर्दाश्त नहीं करेगी।

निगम ने इन नोटिसों को वापिस नहीं लिया तो भाजपा लोगों को साथ लेकर आंदोलन करेगी। इस अवसर पर वरिष्ठ भाजपा नेता किरपाल सिंह, सुनील धींगरा, मुकेश गौतम, डॉ. जतिंदर कुमार, अभय कुमार जिंदल आदि उपस्थित थे।
भाई ने दूसरा मीटर अप्लाई किया था, आ गया नोटिस
पीड़ित डॉ. जतिंदर कुमार और पीड़ित अभय कुमार जिंदल ने कहा उनकी 40 साल पुराने मकान में भाई ने अलग से नया मीटर लगवा लिया है। निगम का उन्हें नोटिस आ गया और नोटिस लेकर आने वाले निगम कर्मचारी ने कहा चिंता करने की कोई बात नहीं है 10-15 हज़ार में मामला सुलट जाएगा। हरनाम नगर के रहने वाले पीड़ित तरसेम लाल ने बताया कि सेकेंड फ्लोर के लिए पावर कनेक्शन अप्लाई किया था। निगम की ओर से नोटिस मिलने के बाद कागजात जमा कराने को कहा गया है जबकि कोई नई कंस्ट्रक्शन नहीं कराई गई है।

खबरें और भी हैं...