बाहरी राज्य से आ रहा परमल पकड़ा:लुधियाना की फर्जी फर्म का बिल बनाकर लाया जा रहा था धान, शंभू बॉर्डर पर ट्रक किया बरामद

लुधियाना17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भारत भूषण आशू - Dainik Bhaskar
भारत भूषण आशू

धान की खरीद शुरू होते ही फर्जी बिल से पंजाब में परमल आना शुरू हो गया है। फूड सप्लाई विभाग की तरफ से पटियाला नजदीक शंभू बार्डर पर एक ट्रक को काबू किया है। इसमें मध्यप्रदेश से पंजाब में बेचने के लिए परमल लाया जा रहा था। ट्रक के चालक खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कर उससे पूछताछ की जा रही है।
जानकारी देते हुए कैबनिट मंत्री भारत भूषण आशू ने बताया कि विभाग की फ्लाइंग टीम ने ट्रक नंबर MP07HB4072 को रोककर तलाशी ली। उसमें 254.50 किलो परमल धान बरामद हुआ। यह धान दशमेश एग्रो फूड्स लुधियाना के नाम पर जाली बिल काटकर लाया जा रहा था। मार्केट कमेटी लुधियाना से जब इस संबंधी जानकारी मांगी तो पता चला कि दशमेश एग्रो फूड्स के नाम से कोई फर्म रजिस्टर्ड ही नहीं है। विभाग की ओर से ट्रक के चालक हरमीत पाल के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कराया गया है।
पंजाब में जांच कर रहीं 150 टीमें
मंत्री भारत भूषण आशू ने बताया कि प्रदेश में इस समय दूसरे राज्यों से यहां लाकर धान बेचने को रोकने के लिए 1500 मुलाजिमों की 150 टीमें काम कर रही हैं। इन्हें अलग-अलग तौर पर बॉर्डर पर तैनात किया गया है और इनका काम यहां फर्जी ढंग से आने वाले धान को रोकना है ताकि बाहरी फसल यहां न बिक सके।
पुलिस की भी की गई है तैनाती
पिछले सीजन में खरीद से समय उपज से ज्यादा की खरीद हो जाने से विरोधियों ने भारत भूषण आशू पर ही सवाल उठा दिए थे। कहा जा रहा था कि उन्होंने ही बाहरी राज्यों से फसल मंगवाकर यहां बेटी और मोटा पैसा एमएसपी का गबन किया है। इस बार सरकार पूरी तरह से सतर्कता बरतते हुए कदम उठा रही है। गृह मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने बॉर्डर जिलों के एसएसपी को भी इस काम की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

खबरें और भी हैं...