खुदकुशी:डीएमसी में मरीज ने हाथ की नसें काट की खुदकुशी, उसकी देखभाल के लिए उसकी बहन और जीजा उसके पास थे

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कुछ समय पहले उसके पैर में इंफेक्शन हो गई थी, जिसके इलाज के लिए उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था

डीएमसी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाए पेशेंट ने सोमवार की सुबह आत्महत्या कर ली। स्टाफ को जब पता चला तो उन्होंने तुरंत उसे एमरजेंसी में पहुंचाया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक की पहचान होशियारपुर के गांव बुल्लोवाल निवासी नवजोत सिंह(32) के रूप में हुई है। फिलहाल चौकी डीएमसी की पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी है। चौकी इंचार्ज सतनाम सिंह ने बताया कि नवजोत खेतीबाड़ी का काम करता था और उसकी शादी अभी नहीं हुई थी।

कुछ समय पहले उसके पैर में इंफेक्शन हो गई थी, जिसके इलाज के लिए उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। उसकी टांग में इंफेक्शन ज्यादा होने से डॉक्टरों ने उसका पैर काट दिया था, लेकिन इंफेक्शन और बढ़ी तो घुटने तक टांग को काट दिया गया। इसके बाद से नवजोत हताश हो गया था। उसकी देखभाल के लिए उसकी बहन और जीजा उसके पास थे। जोकि बाहर सो रहे थे। तड़के 4 बजे नवजोत ने फल काटने के लिए रखे चाकू से अपने हाथ की नस काट ली। जिसकी बाद में मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...