टूटी सड़क बनी हादसों का कारण:बलोके रोड की खस्ता हालत से परेशान लोगों ने, विधायक-सरपंच के खिलाफ किया प्रदर्शन

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हलका विधायक और सरपंच के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया - Dainik Bhaskar
हलका विधायक और सरपंच के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया
  • रात के समय स्ट्रीट लाइटों का भी प्रबंध नहीं
  • 1 लाख लोग हो रहे प्रभावित, मामले के हल को विधायक से कई बार किया संपर्क

हलका गिल के अधीन आते गांव बलोके की मेन रोड पिछले 5 साल से बुरी तरह उखड़ चुकी है। बरसात के दिनों में तो यहां पर सड़क पर पानी भरने से वाहन चालकों और राहगीरों को बचकर निकलना पड़ता है। करीब एक किलोमीटर हिस्से की ये गांव और साथ लगती कॉलोनियों के मेन बलोके रोड बुरी तरह उखड़ी हुई है। परेशान इलाका निवासियों ने कई बार सरपंच से इसे ठीक करवाने के लिए कहा है, परंतु सरपंच के इस तरफ ध्यान न देने के कारण इस सड़क के साथ लगते इलाके गौतम नगर, ग्रीन एवेन्यू, राम नगर, नेता जी पार्क के सैकड़ों निवासी प्रभावित हैं।

सुनवाई न होती देख इलाका निवासियों ने अंग्रेज सिंह पंधेर की अगुवाई में हलका विधायक और सरपंच के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। रोष प्रदर्शन करने वाले अंग्रेज सिंह पंधेर, राहुल शर्मा, पंचायत सदस्य जगतार सिंह, पप्पी प्रधान, हरकेश यादव, रिहाल जैन, लखवीर सिंह पंधेर, भरपूर सिंह, अर्जुन, गुरतेज सिंह, राजिंदर सिंह, अनिल शर्मा, इंदरजीत सोनी, बलजीत सिंह पंधेर, तेजिंदर चोपड़ा, ललित ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के विधायक कुलदीप सिंह वैद ने गांव बलोके व आसपास के इलाकों को हर सुविधा दिलाने और इलाके को मॉडर्न बनाने के बड़े बड़े वायदे किये थे, परन्तु विधायक बनने के बाद आज तक उन्होंने गांव में पांव नहीं रखा और मौजूदा सरपंच भी उन्हीं के नक्शे कदम पर चल रहा है। करीब डेढ़ किलोमीटर की सड़क की हालत दयनीय बनी हुई है और सड़क पर गड्ढे होने की वजह से आए दिन यहां कोई न कोई हादसा हो रहा है। जबकि पूरी सड़क पर रात के समय स्ट्रीट लाइटों का प्रबंध तक नहीं है। उन्होंने बताया कि अब इलाका निवासियों में विधायक और सरपंच के खिलाफ भारी रोष है, जबकि गांव वासियों ने संयुक्त रूप से यह निर्णय लिया है कि विधानसभा चुनावों में वह विधायक कुलदीप सिंह वैद का बायकॉट करेंगे।

1 लाख लोग हो रहे प्रभावित, मामले के हल को विधायक से कई बार किया संपर्क

अंग्रेज सिंह पंधेर ने बताया कि मेन बलोके रोड की खस्ता हालत के कारण करीब एक लाख आबादी बुरी तरह से प्रभावित है। वह लगातार पिछले तीन सालों से विधायक कुलदीप सिंह वैद से इस सड़क को बनवाने के लिए संपर्क साध रहे हैं, लेकिन विधायक वैद एक बार भी इस सड़क का दौरा करने नहीं आए। जबकि उन्हें यही लारा लगाया जा रहा है कि पीडब्ल्यूडी विभाग को कह दिया है, कभी मंडी बोर्ड को ये सड़क बनाने की जिम्मेदारी दे दी है। ऐसे लारों से परेशान इलाका निवासियों की तरफ से मजबूरी में रोष प्रदर्शन का रास्ता अपनाना पड़ा है।

मेरे नहीं, निगम के हिस्से में आती है सड़क- विधायक

गांव बलोके की सड़क के बारे में जब विधायक कुलदीप सिंह वैद से संपर्क किया गया तो उन्होंने ये कहा कि ये सड़क निगम के हिस्से की है। उन्होंने यहां तक कह दिया कि इसे बनवाने के लिए वह कई बार मेयर बलकार सिंह संधू को कह चुके हैं। अब इसे जल्दी बनवा दिया जाएगा। हलका गिल के हिस्से में आते गांव बलोके के साथ लगते इलाके के लोगों का आरोप है कि विधायक वैद चुनाव जीतने के बाद एक बार भी यहां नहीं आए हैं। विधायक के बयान से भी साफ जाहिर है कि उन्हें खुद को पता नहीं है कि कौन-सी सड़क गांव के हिस्से की है और कौन-सी सड़क निगम के हिस्से में आती है। विधायक की ऐसी अनदेखी के कारण ही आज खस्ताहालत वाली सड़क से लोग परेशान हैं।

खबरें और भी हैं...