AG हटाने के बाद सिद्धू-चन्नी एकजुट:वीडियो पोस्ट कर रवनीत बिट्टू ने CM और प्रदेश प्रधान से पूछा- क्या अब ड्रग रिपोर्ट सार्वजनिक होगी

लुधियाना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रवनीत सिंह बिट्टू। - Dainik Bhaskar
रवनीत सिंह बिट्टू।

कैबिनेट बैठक में एजी एपीएस देयोल को हटाने का फैसला लेने के बाद रवनीत सिंह बिट्टू ने तंज कसा है। क्योंकि इस फैसले के बाद नवजोत सिंह सिद्धू और चरणजीत सिंह चन्नी एकजुट हो गए हैं और एक दूसरे के सुर में सुर मिला रहे हैं। रवनीत सिंह बिट्टू ने ट्वीट करते हुए कहा है कि क्या अब ड्रग रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाएगा और क्या एजी को बदलने से बरगाड़ी के लिए न्याय सुनिश्चित होगा? इसके अलावा रवनीत सिंह बिट्टू की तरफ से नवजोत सिंह सिद्धू की वीडियो भी पोस्ट की गई है।

जिसमें सिद्धू द्वारा दो दिन पहले की गई पत्रकारवार्ता के तीन क्लिप को जोड़कर डाला गया है। जिसमें वह कह रहे हैं कि अगर एसटीएफ की रिपोर्ट सार्वजनिक करने की हिम्मत नहीं है तो पार्टी को दे दो, मैं कर दूंगा, मैं करुं मेरे में दम है। आज दो रास्ते हैं पंजाब और पार्टी के सामने, या तो लॉलीपाप देकर सत्ता हासिल करनी है या स्टेट का एजेंडा देकर पंजाब को कर्ज मुक्त करना है और उनकी तरफ से इस पत्रकारवार्ता में बेअदबी का मुद्दा उठाया गया था। मगर बाद में हुई कैबिनेट की बैठक में एजी को हटाने का फैसला हुआ तो नवजोत सिद्धू पलट गए हैं।

रवनीत सिंह बिट्‌टू की तरफ से किया गया ट्वीट
रवनीत सिंह बिट्‌टू की तरफ से किया गया ट्वीट

पहले भी प्रहार कर चुके हैं रवनीत बिट्टू
रवनीत सिंह बिट्टू पहले भी नवजोत सिंह सिद्धू पर प्रहार कर चुके हैं। भले कैबिनेट की बैठक पेट्रोल के रेट कम करने के लिए बुलाई गई हो या फिर बिजली रेट कम करने को लेकर हो। सभी पर रवनीत सिंह बिट्टू, नवजोत सिंह सिद्धू को घेरते आ रहे हैं। वह कहते आ रहे हैं नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी के लिए सही नहीं हैं।

पार्टी अध्यक्ष के दावेदार थे रवनीत बिट्टू
कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने और सुनील जाखड़ को पार्टी प्रधान पद से हटाने के बाद पैदा हुए विवाद के दौरान रवनीत सिंह बिट्टू और कुलजीत नागरा पार्टी अध्यक्ष पद के लिए दावेदार थे। मगर पार्टी ने नवजोत सिंह सिद्धू को पार्टी अध्यक्ष बना दिया था और इसके बाद रवनीत बिट्टू लगातार नवजोत सिंह सिद्धू को निशाने पर लिए हुए हैं।

खबरें और भी हैं...