पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Pre booking Is Only 40 Percent In Salon, Gold Sales Also Fall, Karvachauth Festival Is On November 4, Due To Corona, This Time The Market Is Still Faded

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोविड इफेक्ट:सैलून में 40 प्रतिशत ही है फिलहाल प्री बुकिंग, गोल्ड की भी बिक्री घटी, चार नवंबर को है करवाचौथ का त्योहार , कोरोना के चलते इस बार बाजारों की रौनक अभी भी है फीकी

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इस बार करवा चौथ चार नवंबर को मनाया जाएगा। करवा चौथ के दिन निर्जला उपवास के साथ चांद का दीदार कर सुहागिनें पति की दीर्घायु की कामना करेंगी। इस साल कोरोना महामारी की वजह से बाजारों की रौनक अभी तक फिलहाल फीकी है। हालांकि महिलाओं को आकर्षित करने के लिए लेटेस्ट डिजाइन की चूड़ियां, लहंगे, साड़ियां और सूट बाजार में उतारे गए हैं। सैलून में ब्यूटी पैकेज के ऑफर दिए जा रहे हैं, ताकि प्री बुकिंग हो, लेकिन इसका भी कोई खास प्रभाव नहीं मिल रहा है।

कोरोना महामारी के चलते पार्टीज न होने की वजह से शहर के बाजारों में नहीं है रश
इस बार प्री बुकिंग फिलहाल नहीं है। ब्यूटी पैकेज की जानकारी जरूर ली जा रही है, लेकिन कोरोना का असर साफ देखने को मिल रहा है। इस बार महिलाओं की बहुत ही धीमी प्रतिक्रिया है। इसकी एक वजह कोरोना महामारी के कारण न होने वाली पार्टीज हैं। इससे पहले इस समय तक रश होता था और बुकिंग फुल हो जाती थी, लेकिन इस बार 40 प्रतिशत ही प्री बुकिंग हुई है। करवाचौथ से 2-3 दिन पहले तक के लिए सलून में ज्यादा बुकिंग की उम्मीद की जा रही है। महिलाओं में डर बना हुआ है। हालांकि हम कोविड 19 की गाइडलाइन को पूरी तरफ से फॉलो कर रहे हैं, ताकि हर किसी का संक्रमण से बचाव हो सके। -राधिका मुच्छल, ब्यूटी एक्सपर्ट

इस बार कम है डायमंड ज्वेलरी की डिमांड
कोरोना महामारी की वजह से करवाचौथ की रौनक ही फीकी पड़ गई है। इससे पहले करवाचौथ पर महिलाओं में ज्वेलरी की डिमांड बनी रहती थी, लेकिन अब एक तो कोरोना में हाथ तंग दूसरा बाजार आने में संक्रमण के खतरे के कारण बिक्री पर असर पड़ा है। पहला करवाचौथ रखने वाली महिलाओं के अलावा कम ही महिलाएं गोल्ड ज्वेलरी खरीद रही हैं। इसमें भी डायमंड से ज्यादा गोल्ड की खरीदारी की जा रही है, क्योंकि गोल्ड सेफ इंवेस्टमेंट है। हर साल इस समय तक ज्वेलरी की खरीदारी करने वाली महिलाओं का काफी रश रहता था, लेकिन इस साल अभी तक ऐसा नहीं है। -माला ढांडा, ज्वेलर्स

पुरानी ड्रेसेज भी करवाई जा रही हैं कस्टमाइज
महिलाएं फैशन को लेकर हमेशा अपडेट रहती है। खासकर करवाचौथ का त्योहार हर किसी के लिए बेहद खास होता है। इस साल जरूर फर्क पड़ा है, लेकिन हर किसी की ख्वाहिश होती है कि वह नई ड्रेस ही पहनें। कोरोना संक्रमण के कारण इस साल नई ड्रेसेज के साथ ही पुरानी ड्रेसेज को कस्टमाइज करवाने का ट्रेंड चल रहा है। इस बार पुरानी साड़ी के साथ डिजाइनर ब्लाउज भी बनवाए जा रहे हैं, ताकि पुरानी साड़ी को नया लुक दिया जा सके। इस बार शॉर्ट अनारकली सूट, गरारा जैकेट और मिक्स कलर फैशन में हैं। -शिवाली कालरा, फैशन डिजाइनर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें