पंजाब परिषद बैठक में बीजेपी का शंखनाद:सिख दंगे, बेअदबी की घटनाओं को बनाएंगे चुनावी मुद्दा, अश्वनी बोले- सरकार बनते ही आरोपियों को सजा मिलेगी

लुधियाना5 महीने पहलेलेखक: दिलबाग दानिश
  • कॉपी लिंक
पंजाब BJP के अध्यक्ष अश्वनी शर्मा। - Dainik Bhaskar
पंजाब BJP के अध्यक्ष अश्वनी शर्मा।

पंजाब के लुधियाना में मंगलवार को पंजाब परिषद बैठक के बाद भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने चुनावी शंखनाद कर दिया है। कृषि कानून वापस होने के बाद अब भाजपा 1984 के सिख दंगे और श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं को चुनावी मुद्दा बनाएगी। बैठक में कार्यकर्ताओं को आने वाले विधानसभा चुनाव में एकजुटता के साथ काम करने के लिए कहा गया।

पंजाब परिषद बैठक में शामिल कार्यकर्ता।
पंजाब परिषद बैठक में शामिल कार्यकर्ता।

पंजाब अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने उठाया सिख दंगे और बेअदबी का मुद्दा

BJP अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि पिछली सरकारों के समय में पंजाब के साथ न्याय नहीं हुआ है। 1984 में हजारों सिखों का कत्लेआम करने वाले आरोपियों को केंद्र की नरेंद्र मोदी की सरकार के समय में ही सजा हुई। अब पंजाब में गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं को आरोपियों को भी उनकी सरकार के समय ही सजा मिलेगी। उनकी पार्टी पंजाब में आपसी भाईचारा और प्यार चाहती है। इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के फायदे के लिए कानून वापस ले लिए। शर्मा ने कहा कि जब उनका शिरोमणि अकाली दल बादल से भी गठजोड़ हुआ तो वह भी किसी राजनीतिक फायदे के लिए नहीं था, बल्कि भाईचारे के लिए ही था। अब पंजाब में भाजपा की सरकार बनने जा रही है और पंजाब तरक्की की राह पर होगा।

पंजाब में पार्टी करेगी बड़े कार्यक्रम, पहुंचेंगे राष्ट्रीय नेता

पंजाब में BJP के चुनाव प्रभारी व हिमाचल प्रदेश के संगठन मंत्री पवन राणा ने कहा कि आने वाले समय में पार्टी की तरफ से राज्य में कई कार्यक्रम किए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम को अब बूथ स्तर पर प्रसारित किया जाएगा। इसके अलावा मंडल, जिला व विधानसभा सत्र पर रैलियों का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें अलग-अलग समय पर प्रदेश व राष्ट्रीय कार्यकारिणी के नेता पहुंचते रहेंगे।

उन्होंने कहा कि गुरु तेग बहादुर का 400वां प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है। इसके लिए पार्टी की तरफ से मंडल, जिला और प्रदेश स्तर पर 20 प्रोग्राम करने को कहा गया है। इन्हें पूरा कर पार्टी को रिपोर्ट भेजनी होगी। राणा ने कहा कि पार्टी की तरफ से अब बूथ स्तर तक कार्यक्रम किए जा रहे हैं। इन्हें पूरा करने का लक्ष्य शत प्रतिशत पूरा होना चाहिए।

लुधियाना में हुई पंजाब परिषद बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत।
लुधियाना में हुई पंजाब परिषद बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत।

शेखावत बोले- पंजाब को वापस सोने की चिड़िया बनाएंगे

केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि पंजाब लीडरशिप की लंबे समय से मांग रही कि राज्य में अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ना चाहिए। वह समय आ गया है। हम अब अकेले पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं। इसके लिए अब हर कार्यकर्ता को अपना सहयोग देना होगा। यह सोचना कि हम पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं और पता नहीं क्या होगा। यह सोच गलत है।

उन्होंने कहा कि हम उन राज्यों में सरकार बना चुके हैं, जहां पर हम तीसरे या चौथे स्थान पर हुआ करते थे। हम सभी को अच्छी सोच के साथ लड़ना होगा। देश के मुख्यमंत्री ने एकता और अखंडता के लिए हमेशा से काम किया है। इसी एकता और अखंडता के लिए ही उनकी ओर से किसानों के हित में बनाए कानून वापस ले लिए गए। जब से वह पंजाब की बेहतरी के लिए काम कर रहे हैं। तभी से उनकी विरोधी ताकतें एकजुट होकर खड़ी हुई हैं।

खबरें और भी हैं...