वसूली करने वाला नकली ASI गिरफ्तार:काम करवाने के पैसे लेकर हो जाता था गायब, लोग पुलिस मुलाजिमों को कहने लगे थे चोर

लुधियाना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के लुधियाना के डिप्टी कमिश्नर एवं पुलिस कमिश्नर कार्यालय में काम करवाने के नाम पर वसूली करने वाले नकली असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (ASI) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। वह पिछले काफी समय से लघु सचिवालय में सक्रिय था। यहां काम करवाने आए लोगों से पैसे वसूल लेता और काम नहीं करवाकर गायब हो जाता था। जिस कारण यहां ड्यूटी देने वाले पुलिस के मुलाजिम भी परेशान थे। पुलिस के CID और स्पेशल ब्रांच के अधिकारी उसे पकड़ने के लिए कई दिन से प्रयास कर रहे थे। आज दोपहर को वह पुलिस मुलाजिमों के हाथ लग गया। व्यक्ति की शिनाख्त हरदीप सिंह निवासी गांव रशीन रायकोट के तौर पर हुई है। उसे कोचर नगर मार्केट पुलिस के हवाले कर दिया गया है और वहां पर उससे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस मुलाजिमों को चोर बोलने लगे थे लोग

दरअसल, ड्यूटी करने वाले मुलाजिम इसकी हरकतों से काफी परेशान थे। इसके बकायदा तौर पर रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी (RTA) के कार्यालय में चालान भुगतने, लाइसेंस बनवाने के साथ पुलिस विभाग में काम करवाने के लिए अपने पैसे बांधे हुए थे। यहां पर अपनी फरियाद लेकर पहुंचने वाले और चालान भुगतने आने वाले लोगों से काम करवाने के लिए उसने अपने पैसे बांधे हुए थे। वह उनके कागजात ले लेता था और पैसे लेने के बाद कई-कई दिन गायब हो जाता था। जिस कारण लोग यहां पर ड्यूटी करने वाले मुलाजिमों को ही चोर कहने लगे थे और कहते थे कि पुलिस विभाग का मुलाजिम उन्हें लूट रहा है।

RTA कार्यालय में दलालों की भरमार

जिला कचहरी में दलालों की भरमार है। RTA कार्यालय में जाएंगे तो वहां मौजूद दलाल खुद लोगों के पास आते हैं और काम पूछने लगते हैं। वह रेट तय करके काम करवाते हैं। इसी का फायदा उक्त व्यक्ति भी उठा रहा था, लेकिन मगर फंसा तब जब उसने पुलिस के नाम पर ही पैसे लेने शुरू कर दिए। अब उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

चौकी कोचर मार्केट के प्रभारी SI कुलबीर सिंह का कहना है कि हां कुछ लोग एक व्यक्ति को पकड़कर चौकी लेकर आए हैं। कहा जा रहा है कि वह पुलिस के नाम पर वसूली करता था। उन्होंने कहा कि मामले की जांच कर रहे हैं, और पता लगाया जा रहा है कि उसने किन लोगों से ठगी की है।

खबरें और भी हैं...