पंजाब पुलिस का कांस्टेबल बना करोड़पति:6 रुपए की लॉटरी पर निकला एक करोड़ रुपए कैश का इनाम, मां के कहने पर खरीदा टिकट

लुधियाना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुलदीप सिंह अपनी मां के साथ लॉटरी का नंबर दिखाते हुए।

पंजाब के फिरोजपुर में तैनात एक पुलिसवाले की 6 रुपए में किस्मत बदल गई। कुलदीप सिंह नामक इस कांस्टेबल ने 6 रुपये का लॉटरी टिकट खरीदा था जिस पर उसका 1 करोड़ रुपए का इनाम निकल आया। सामान्य तरीके से गुजर-बसर करने वाले कुलदीप सिंह का परिवार और उसकी मां खुशी से फूले नहीं समा रहे।

पंजाब पुलिस के कांस्टेबल कुलदीप सिंह मूलत:राजस्थान में श्रीगंगानगर के रहने वाले हैं। जॉब की वजह से वह खुद पंजाब आ गए। हालांकि उनके माता-पिता, पत्नी और 8 वर्षीय बेटा श्रीगंगानगर में ही रहता है। कुलदीप सिंह की पोस्टिंग इस समय फिरोजपुर जिले में है। वह फिरोजपुर पुलिस की क्विक रिस्पॉन्स टीम (QRT) में तैनात है और किसी न किसी काम से लुधियाना आते रहते हैं।

मां के कहने पर लगाई लॉटरी
कुलदीप ने बताया कि उनकी मां बलजिंदर कौर ने 6 महीने पहले एक दिन अचानक उससे लॉटरी खरीदने को कहा। मां का विश्वास था कि उसकी लॉटरी जरूर निकलेगी। मां के बार-बार कहने पर उसने 6 महीने पहले लॉटरी का टिकट खरीदना शुरू किया। तकरीबन 4 महीने पहले उसकी 6 हजार रुपए की पहली लॉटरी निकली तो सब बहुत खुश हुए।

कुलदीप सिंह का मुंह मीठा करवाता दुकानदार।
कुलदीप सिंह का मुंह मीठा करवाता दुकानदार।

एक दिन पहले खरीदा टिकट

कुलदीप ने बताया कि वह नागालैंड स्टेट लॉटरीज का टिकट ही खरीदते हैं जिसका रोज दिन में तीन बार ड्रॉ निकलता है। यह ड्रॉ सुबह 8 बजे, दोपहर 1 बजे और रात 8 बजे निकलता है। वह जब भी फिरोजपुर से लुधियाना आते हैं तो लॉटरी का टिकट खरीद लेते हैं। 2 अगस्त को भी उसने लुधियाना में गांधी ब्रदर्स से नागालैंड स्टेट लॉटरी के टिकटों की एक कॉपी खरीदी। डेढ़ सौ रुपए की इस कॉपी में लॉटरी के कुल 25 टिकट थे और इनमें से हर टिकट की कीमत 6 रुपए थी।

ड्यूटी पर मिली खुशखबरी

कुलदीप के अनुसार, दो अगस्त की शाम को वह फिरोजपुर में ड्यूटी पर था। उसी समय उसके पास लुधियाना स्थित गांधी ब्रदर्स से फोन आया। फोन करने वाले दुकानदार ने जब बताया कि उसकी एक करोड़ रुपए की लॉटरी निकली है तो एकबारगी उसे यकीन नहीं हुआ। उसने कभी नहीं सोचा था कि एक करोड़ की लॉटरी निकलेगी। हां वह ये ख्वाब जरूर देखा करता था कि कभी बड़ी लॉटरी निकलेगी लेकिन किस्मत इस तरह बदल जाएगी, इसका अंदाजा नहीं था।

बेटे की स्टडी के अलावा सोशल वर्क और गुरुघर में चढ़ाएंगे रकम

श्रीगंगानगर से अपनी मां बलजिंदर कौर के साथ बुधवार को लुधियाना में लॉटरी विक्रेता गांधी ब्रदर्स की दुकान पर पहुंचे कुलदीप ने कहा कि वह लॉटरी में निकले एक करोड़ रुपए से अपने बेटे को अच्छी स्टडी कराएंगे। साथ ही समाज में निचले स्तर से आने वाले जरूरतमंद बच्चों की मदद करेंगे। वह गुरुघर में भी कुछ रकम चढ़ाकर वाहेगुरु का शुक्राना करेंगे।

कुलदीप ने बताया कि उन्होंने अपने जीवन में अच्छा और बुरा, दोनों तरह का समय देखा है। आज भगवान ने उनके परिवार को खुशियां मनाने का दिन दिया है। यह सब वाहेगुरु का ही आशीर्वाद है।

खबरें और भी हैं...