लुधियाना में अब ऐप से किराएदारों और नौकरों की वेरिफिकेशन:घर बैठे 200 रुपए का भुगतान करके पूरी होगी प्रक्रिया, DGP दिनकर गुप्ता ने की सुविधा की शुरुआत

लुधियाना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऐप लॉन्च करते डीजीपी दिनकर गुप्ता। - Dainik Bhaskar
ऐप लॉन्च करते डीजीपी दिनकर गुप्ता।

पंजाब के लुधियाना शहर में नौकरों और किराएदारों द्वारा की जा रही वारदातों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पुलिस ने एक अच्छा कदम उठाया हैं। इन नौकरों और किरायेदारों की वेरिफिकेशन के लिए डीजीपी दिनकर गुप्ता ने ऐप लॉन्च कर दिया है। इसके जरिए घर बैठे ही लोग पुलिस वेरिफिकेशन कर सकेंगे।

गौरतलब है कि पहले मकान मालिक को अपने नौकर या फिर किरायेदार की वेरिफिकेशन के लिए सांझ केंद्र जाना पड़ता था। मगर वहां सुनवाई कम ही होती थी, जिसे देखते हुए पुलिस ने यह कदम उठाया है। पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने बताया कि नेपाल के नौकरों के सत्यापन के लिए इस ऐप में कई विशेष सुविधाएं शामिल हैं।

इसके लिए मकान मालिकों को खुद के और नौकर दोनों के विवरणों समेत आवेदक के विवरण फोटो सहित और आईडी, घरेलू सहायता के विवरण फोटो, आईडी प्रूफ, रिहायश का सबूत और अन्य विवरण चाहे वह परिसर में रहते हैं या बाहर रहते हैं, जमा करवाने होंगे। इसके अलावा पारिवारिक सदस्यों के बारे में जानकारी और कम-से-कम दो रेफरल की जानकारी देनी होगी।

विवरण भरने के बाद आवेदक को प्रामाणिकता के लिए एक ओटीपी प्राप्त होगा, जिसे सबमिट करनके बाद आवेदक पेमेंट पेज पर पहुंच जाएगा। नौकरों की पुलिस वेरिफिकेशन की इस सेवा के लिए लोगों से 200 रुपए फीस ली जाएगी। इसी तरह मालिक अपने कर्मचारियों के सत्यापन के लिए भी इस एप्लीकेशन का प्रयोग कर सकते हैं। ऐप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...