सख्ती:गलाडा एरिया में अवैध कॉलोनियां और निर्माण रोकेगा रेगुलेटरी विंग, हर हफ्ते देनी होगी रिपोर्ट

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस्टेट अफसर की देखरेख में होगा काम, अफसरों की एरिया वाइज ड्यूटी तय

गलाडा के अधीन आते इलाकों में इस समय अवैध निर्माण और कॉलोनियों की भरमार है। बिना मंजूरी बनी कॉलोनियां और इमारतें नियमों के उलट हैं। इससे ट्रैफिक समस्या बढ़ेगी ही, साथ ही इसके अलावा पर्यावरण के लिए भी गंभीर है। ऐसे में इन अवैध कॉलोनियों और निर्माणों पर नकेल कसने के लिए अब गलाडा के नए चीफ एडमिनिस्ट्रेटर रिशीपाल सिंह ने इस्टेट अफसर प्रीतइंद्र सिंह बैंस की अगुवाई में गलाडा के हितों को ध्यान में रख रेगुलेटरी विंग का गठन किया है।

अफसरों की एरिया वाइज जिम्मेदारी तय की, जबकि अफसर ये सुनिश्चित करेंगे कि भविष्य में कोई भी अवैध कॉलोनी या निर्माण न हो सके। रेगुलेटरी विंग के एरिया वाइज उप-मंडल इंजीनियरों और जूनियर इंजीनियरों को मौजूदा कामों के साथ रेगुलेटरी के कामों के लिए तैनाती की है, जोकि सीधे तौर पर इस्टेट अफसर की देखरेख में काम करेंगे। कामों की प्रगति रिपोर्ट हर हफ्ते पेश की जाएगी और अपनी लॉगबुक भी चेक करवाएंगे।

खबरें और भी हैं...