पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

‘बैंस की हो गिरफ्तारी, कांग्रेस-आप कर रही मदद’:विधायक पर शारीरिक शोषण के आरोप के मामले में गरमाई राजनीति, शिअद ने खोला मोर्चा

लुधियाना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महिला द्वारा शारीरिक शोषण का आरोप लगाने के मामले में लोक इंसाफ पार्टी के प्रधान सिमरजीत बैंस के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए शिरोमणि अकाली दल ने बलात्कार और यौन शोषण के आरोप में मामला दर्ज करने और गिरफ्तारी की मांग की। बुधवार को प्रेस वार्ता में शिअद के वरिष्ठ नेता महिंदर सिंह ग्रेवाल और शरणजीत सिंह ढिल्लों ने कहा कि लुधियाना पुलिस को सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए पीड़ित महिला की शिकायत पर पहले मामला दर्ज करना चाहिए और फिर जांच करनी चाहिए। शिअद नेताओं ने कहा कि बलात्कार के आरोपी बैंस खाद्य आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु के करीबी दोस्त हैं।

इसलिए कैप्टन अमरिंदर सिंह भी बैंस का बचाव कर रहे हैं। वहीं इस मुद्दे पर आम आदमी पार्टी को भी लताड़ लगाई। उन्होंने कहा कि आप आरोपियों का समर्थन सिर्फ इसलिए कर रही क्योंकि बैंस ने पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान आप के साथ गठबंधन किया था। हरीश राय ढांढा, मनप्रीत अयाली और दर्शन सिंह शिवालिक सहित शिअद नेताओं ने बैंस के बड़े भाई करमजीत बैंस के खिलाफ भी पीड़िता को धमकाने के आरोप लगाए। उन्होंने कहा की अगर पुलिस करवाई नहीं करती तो वे एक आंदोलन शुरू करेंगे।

बैंस के समर्थन में आई लिप की महिला विंग
लोक इंसाफ पार्टी के महिला विंग की पंजाब अध्यक्ष शशि मल्होत्रा और पार्टी की ही एक और वरिष्ठ नेता हरप्रीत कौर ने कहा कि उनकी पार्टी के प्रधान सिमरजीत बैंस पर एक महिला द्वारा शारीरिक शोषण के लगाए गए सारे आरोप राजनीति से प्रेरित हैं। उन्होंने कहा की सिमरजीत बैंस के साथ पार्टी में काम करते हुए उन्हें काफी समय हो गया है। बैंस सभी महिलाओं से बहुत ही सम्मान के साथ पेश आते हैं। आरोप लगाने वाली महिला राजनीतिक नेताओं के हत्थे चढ़ गई है, जिन्हें लोगों ने अस्वीकार कर दिया था। ऐसे शर्मनाक आरोप लगा रही है। उनके द्वारा निकाली जा रही पंजाब अधिकार यात्रा में विघ्न डालने की ये नाकाम कोशिश है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें