कोरोनाकाल ने बदली पुलिसिंग / बयान से पर्चा दर्ज करने तक सोशल मीडिया-वीडियो कॉल होगी इस्तेमाल

X

  • थानों की वर्किंग में इस्तेमाल के लिए पुलिस कमिश्नरेट ने खरीदे चार साॅफ्टवेयर

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:46 AM IST

लुधियाना. कोरोना के कारण अब पुलिसिंग सिस्टम में बड़ा फेरबदल होने वाला है। बयान से लेकर पर्चा दर्ज करने तक और थानों में होने वाली जांच अब ऑनलाइन होगी। इसमें सॉफ्टवेयर्स और सोशल मीडिया का अहम योगदान रहेगा। इसके लिए लुधियाना पुलिस ने 80 फीसदी काम पूरा कर लिया है। सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को फॉलो कर पुलिस की ओर से 4 सॉफ्टवेयर खरीदे गए हैं, जो पुलिसिंग सिस्टम को बदलने में महत्वपूर्ण होंगे। इस सिस्टम को तैयार करने में पुलिस का आईटी विंग और बाकी के सीनियर आईटी स्पेशलिस्ट जुटे हैं, जोकि ऑपरेशन को कंप्लीट करने में जुटे हैं। पुलिस के इस नए सिस्टम की वजह से थानों में 70 फीसदी लोगों का आना-जाना खत्म होगा। थाने वही लोग आ सकेंगे। उनके साथ हत्या-डकैती जैसा कोई बड़ा क्राइम हुआ हो।

अब ई-मेल, वाॅट्सएप के जरिए बयान लिखकर भेज सकेंगे शिकायतकर्ता

थानों में अब ऑनलाइन शिकायत ई-मेल और वॉट्सएप के जरिए भेज सकेंगे। शिकायत मिलने के बाद पुलिस दोनों पक्षों से उनके बयानों को ऑनलाइन सेल्फ बयान के रूप में टाइप कर मंगवाएगी। फिर बयानों को फाइलों में लगाएंगे, इन सबके बाद जब दोनों पक्षों की सुनवाई करनी है तो उन्हें वीडियो कॉल का लिंक उनके मोबाइल पर भेजा जाएगा। इसके बाद दी टाइमिंग के मुताबिक दोनों पक्ष और केस का आईओ ऑनलाइन होकर दोनों की सुनवाई करेगा। फिर जिस पक्ष के खिलाफ पर्चा दर्ज होगा, शिकायतकर्ता को उसकी एफआईआर की पीडीएफ फाइल उनके वॉट्सएप पर भेज दी जाएगी। अगर कहीं आरोपी को शिकायतकर्ता या आरोपी को थाने में बुलाना भी पड़ा तो उससे पहले उनका फीवर चेक किया जाएगा, फिर थाने के अंदर वो एंटर होगा।

ग्लब्स-मास्क पहनना होगा जरूरी, एडवांस होगी हथकड़ी 

किसी आरोपी को पकड़ते समय ग्लब्स-मास्क तो पहनना जरूरी होगा ही। इसके अलावा उसे पकड़ने के लिए छोटी नहीं, बल्कि 2 मीटर के फासले वाले शिकंजे का इस्तेमाल किया जाएगा। अगर हथकड़ी कहीं इस्तेमाल होता है तो उसे पकड़ने से पहले और बाद में सेनेटाइज जरूर करना होगा, ताकि कोरोना की चेन न बनने पाए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना