सख्ती:बाहरी राज्यों के धान-चावल की एंट्री पर सख्ती,डीसी ने बनाईं 18 फ्लाइंग टीमें

लुधियाना20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • उपमंडल स्तर पर दस्ते का नेतृत्व पुलिस अधिकारी और अन्य के साथ एसडीएम करेंगे

दूसरे राज्यों से फर्जी बिलिंग के माध्यम से अवैध धान-चावल की आमद की निगरानी के लिए जिला और मार्केट कमेटी स्तर पर 18 फ्लाइंग टीमों का गठन किया गया है। इसकी पुष्टि डीसी वरिंदर कुमार शर्मा ने करते हुए कहा कि पंजाब सरकार के आदेशों के तहत जिला स्तर पर हर टीम का नेतृत्व एडीसी के साथ उनके पुलिस और मंडी बोर्ड, खाद्य आपूर्ति, तहसीलदार-नायब तहसीलदार, आबकारी के प्रतिनिधि करेंगे, ताकि आदेशों का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित किया जा सके। उपमंडल स्तर पर दस्ते का नेतृत्व पुलिस अधिकारी और अन्य के साथ एसडीएम करेंगे।

डीसी ने बताया कि ये दस्ते अनाज मंडियों-कमीशन एजेंटों का निरीक्षण करेंगे और रोजाना रिपोर्ट कार्यालय में जमा करेंगे। अन्य राज्यों से धान-चावल के अनधिकृत आगमन की निगरानी के लिए टीमें क्षेत्रों में दौरा भी करेंगी। उधर, एडीसी डॉ. नयन की अगुवाई में तहसीलदार मनमोहन कौशिक, एसएचओ किरणदीप कौर, एएफएसओ बेअंत सिंह और अन्य के नेतृत्व में टीम ने बुधवार को पुरानी अनाज मंडी का निरीक्षण किया और गोयल ब्रोकर, महावीर ब्रोकरेज, प्यारे लाल रमेश चंद्र और गगन गोयल एंड संस के रिकॉर्ड की जांच की। वहीं, एजेंटों ने टीम को आश्वासन दिया कि वे दूसरे राज्यों से धान-चावल नहीं खरीदेंगे। एडीसी ने कहा कि जो भी इस मामले में पकड़ा गया, उन दोषियों को कड़ी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा और कहा कि उड़न दस्ते दिन-रात अवैध धान ले जाने वाले ट्रकों की आवाजाही पर नजर रखेंगे।

खबरें और भी हैं...