स्कूलों में परीक्षाओं के लिए नई गाइडलाइंस:परीक्षा के लिए दो शिफ्टों में छात्रों को बुला सकते हैं, कोरोना नियमों का करना होगा पालन

लुधियाना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डिप्टी कमिश्नर वरिंदर शर्मा। - Dainik Bhaskar
डिप्टी कमिश्नर वरिंदर शर्मा।

कोरोना के बढ़ रहे मरीजों की वजह प्रशासन ने सभी स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटीज को 15 जनवरी तक बंद करने के आदेश दिए हैं। इस बीच प्रशासन ने स्कूलों में परीक्षाओं को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की है। डिप्टी कमिश्नर वरिंदर शर्मा ने परीक्षाओं के लिए दो शिफ्टों में स्कूल खोलने के आदेश दिए हैं। आदेशों के अनुसार दो शिफ्टों में सुबह 9 से 12 बजे दोपहर और 2 बजे से 5 बजे शाम को बच्चों को परीक्षा के लिए बुला सकते हैं। इस दौरान स्कूलों को कोरोना गाइडलाइंस का ध्यान रखना होगा। स्कूल की बिल्डिंग को सैनिटाइज करनी होगा। यही नहीं पूरी एक्टिविटी CCTV कैमरों में कैद होनी चाहिए और इसकी वीडियोग्राफी भी होनी जरूरी है।

निजी स्कूल प्रबंधक ने की थी मांग

शहर के एक निजी स्कूल प्रबंधन की तरफ से डिप्टी कमिश्नर वरिंदर शर्मा के कार्यालय में लिखित में मांग की गई थी कि सीबीएसई, आईसीएसई, सीआईएससीई और पीएसईबी की तरफ से परीक्षाएं अनाउंस हो रही हैं, इसके लिए स्कूल खोलने की इजाजत दी जाए। जिसके बाद डिप्टी कमिश्नर की तरफ से यह आदेश दिए गए हैं।

प्रशासन ने बंद किए 15 जनवरी तक स्कूल-कॉलेज

प्रशासन की तरफ से कोरोना के बढ़ रहे मरीजों को देखते हुए सभी स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटीज को 15 जनवरी तक बंद कर दिया है। स्कूल प्रबंधकों को आदेश किए गए हैं कि वह बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं ही लगवाएं।