• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Sukhbir Badal Said That The King Wadding Will Be Orange After One And A Half Months, What Would Have Happened If He Had Given The Answer Of Wadding To Belching 14 Crores

बसों के रूट बंद करने पर विवाद:सुखबीर बादल बोले- राजा वड़िंग डेढ़ माह बाद संतरी होगा; मंत्री ने कहा- 14 करोड़ डकारने देता तो क्या होता

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुखबीर बादल और अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग आमने-सामने। - Dainik Bhaskar
सुखबीर बादल और अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग आमने-सामने।

पंजाब के परिवहन मंत्री अमरिंदर सिह राजा वड़िंग और शिरोमणि अकाली दल बादल प्रधान सुखबीर सिंह बादल इन दिनों आमने-सामने हैं। अब राजा वड़िंग ने सुखबीर सिंह बादल के उस बयान का जवाब दिया है, जिसमें सुखबीर ने कहा था कि अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग डेढ़ माह का मंत्री है, बाद में इसे संतरी ही बनना है। जितनी भी बसें बंद करनी हैं, वह कर ले। जो करना चाहता है, वह कर सकता है।

इसके पलटवार में अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने बड़ा बयान दिया है। राजा वड़िंग ने कहा कि अकेले बठिंडा में 14 करोड़ रुपए की वसूली की गई है, जबकि 14 करोड़ रुपए पिछली कांग्रेस सरकार माफ भी कर चुकी है। जो अकेले इनके परिवार के थे। अगर मैं इन्हें 14 करोड़ रुपए डकारने देता तो फिर मैं संतरी नहीं तो क्या होता। सुखबीर सिंह बादल कह रहे हैं कि सरकारी बसों का 280 करोड़ रुपए का बकाया है। इस पर राजा वड़िंग ने सवाल पूछा है कि क्या सरकारी बसों को ही बंद कर दूं?

मालवा में पूरी तरह सक्रिय हैं राजा वड़िंग
अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग मालवा क्षेत्र में पूरी तरह से सक्रिय हैं। मालवा में पूरे पंजाब की सबसे ज्यादा 60 सीटें हैं और यहां पर अकाली दल का गढ़ भी है। कांग्रेस चाहती है कि यहां से पार्टी को ज्यादा से ज्यादा सीटें आएं। यही कारण है कि अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग हर हाल में बादल परिवार के कार्यों को लोगों के सामने लाने में लगे हैं, ताकि लोग उनसे दूर हों। यही कारण है कि शिरोमणि अकाली दल बादल से संबंधित ट्रांसपोर्ट कंपनियों की बसों के परमिट रद्द किए जा रहे हैं, इससे आम लोग भी कहीं न कहीं परेशान जरूर थे।

अकाली नेताओं का बड़ा आरोप- कांग्रेसियों की बसें बंद नहीं कर रहे राजा
शिरोमणि अकाली दल के नेताओं ने यह आरोप भी लगाया है कि अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग की तरफ से सिर्फ अकाली दल से संबंधित नेताओं की ट्रांसपोर्ट बसों को ही निशाना बनाया जा रहा है और उन्हें बंद भी किया जा रहा है। दीप ट्रांसपोर्ट के मालिक हरदीप ढिल्लों के अनुसार, 500 के करीब बसें बंद कर दी गई हैं, जबकि कांग्रेसियों की बसों पर कोई एक्शन नहीं लिया जा रहा है। इस पर राजा वड़िंग ने कहा है कि उनकी ओर से कांग्रेस से संबंधित ट्रांसपोर्टरों की बसें भी बंद की गई हैं, सबूत भी हैं उनके पास।