जम्मू-कश्मीर में सैनिकों की शहादत पर कैप्टन ने कहा:अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद कश्मीर में बढ़ते आतंकी हमलों पर लिखा- हमारा डर सच साबित हो रहा

लुधियाना10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैप्टन अमरिंदर सिंह। - Dainik Bhaskar
कैप्टन अमरिंदर सिंह।

पाकिस्तान समर्थित तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद से जम्मू-कशमीर में आतंकी हमले बढ़ गए हैं। यहां अल्पसंख्यकों को ढूंढ-ढूंढकर निशाना बनाया जा रहा है। ऐसे में पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जम्मू-कश्मीर में बदलते हालात पर प्रतिक्रिया दी है। सोमवार को सुरनकोट सेक्टर में 5 सैनिकों के शहीद होने पर दुख जताते हुए कैप्टन ने कहा कि उनकी ओर से जताया जा रहा डर सच साबित हो रहा है। इन हालात से निर्णायक एवं मजबूती से निपटने की जरूरत है।

फौज में रह चुके कैप्टन अमरिंदर सिंह की यह प्रतिक्रिया जम्मू एवं कश्मीर में लगातार बढ़ते आतंकी हमलों के बीच आई। इन आतंकी हमलों में सिख और हिंदू परिवारों को निशाना बनाया जा रहा है। पिछले दिनों श्रीनगर में सरकारी हायर सेकेंडरी स्कूल की प्रिंसिपल सतिंदर कौर और अध्यापक दीपक चंद की स्कूल में घुसकर हत्या कर दी गई। इससे पहले भी हिंदू कर्मचारियों को निशाना बनाया जा चुका है। लगातार बढ़ती आतंकी घटनाओं से चिंता की स्थिति बनी हुई है और यही चिंता कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से ट्वीट कर जाहिर की गई है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से किया गया ट्वीट
कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से किया गया ट्वीट

ट्वीट में कैप्टन ने लिखा है कि हमारा सबसे बड़ा डर सच हो रहा है। पाकिस्तान समर्थित तालिबान द्वारा अफगानिस्तान पर अधिकार करने के बाद कश्मीर में आतंकवाद बढ़ रहा है। अल्पसंख्यकों को ढूंढकर निशाना बनाया जा रहा है और अब सुरनकोट सेक्टर में पांच सैनिक शहीद हो गए हैं। हमें इन हालातों से निर्णायक और मजबूती से निपटने की जरूरत है।

गृह मंत्री और एनएसए से मिलकर जता चुके हैं चिंता
कैप्टन अमरिंदर सिंह इससे पहले दिल्ली दौरे के दौरान गृह मंत्री अमित शाह और नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर (एनएसए) अजीत डोभाल से मिलकर इस पर चिंता जाहिर कर चुके हैं। उन्होंने पंजाब के बॉर्डर पर ड्रोन से लगातार भेजे जा रहे हथियारों और बारूद के बारे में बातचीत की। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा पर चिंता जाहिर की थी।

अमित शाह से मुलाकात के दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह
अमित शाह से मुलाकात के दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब में लगातार बॉर्डर से आ रहे हथियार
पंजाब में अमृतसर और पठानकोट सेक्टर लगातार ड्रोन के जरिए हथियार पहुंच रहे हैं। बीएसएफ और पंजाब पुलिस ने पिछले दिनों 6 टिफिन बम, हथियार और हथियार पकड़ चुकी है। यही नहीं जम्मू एवं कशमीर का बॉर्डर पठानकोट की तरफ से पंजाब के साथ लगता है। जम्मू एवं कशमीर में बॉर्डर पर सख्ती के कारण पंजाब के बार्डर से हथियार सप्लाई किए जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...