पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • The Cyber Crime Of The Entire Country Operates From Jamtara, While The Thugs Taught The Maneuvers To Everyone, Police In Contact With Many States

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

10वीं पास साइबर ठग:जामताड़ा से ऑपरेट होता है पूरे देश का साइबर क्राइम, वहीं के ठग ने सभी को सिखाए थे पैंतरे, कई राज्यों के संपर्क में पुलिस

लुधियाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • देशभर में एक हजार लोगों से आॅनलाइन ठगी का मामला

एक हजार से ज्यादा लोगों से ऑनलाइन ठगी मारने वाले गिरोह के सात लोगों की गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस को उस आरोपी की तलाश है, जिसने उन्हें इस ठगी के पैंतरे सिखाए। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उक्त आरोपी झारखंड के जामताड़ा का है। उसी ने विजय को उक्त ठगी के लिए ट्रेंड किया। उक्त आरोपी के खिलाफ झारखंड, यूपी और कई अन्य राज्यों में ठगी के पर्चे दर्ज हैं।

फिलहाल आरोपी मन्नू, जितेंद्र की तलाश पुलिस को है, जिसके बाद कई और बड़े खुलासे होंगे। फिलहाल पकड़े गए सातों आरोपियों को सोमवार को अदालत में पेश किया जाएगा। पड़ताल में अभी तक जो सामने आया, उसमें पता चला कि फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है, जोकि उसी शातिर ठग के संपर्क में हैं। उक्त आरोपी छोटी नहीं बल्कि बड़े ठगी के मामलों में शामिल है।

लोगों के खातों से पैसे निकालना और प्रोडक्ट सेल करने के बहाने लाखों रुपए ट्रांसफर करवा लेना, उक्त आरोपी का मुख्य धंधा है। बता दें कि जामताड़ा झारखंड का वो जिला है, जहां से पूरे भारत का साइबर क्राइम ऑपरेट होता है। आरोपी वहीं का है, जिसकी डिटेल पुलिस खंगाल रही है।

फोन पर हुई बातचीत, वहीं से सीखा काम
सूत्र बताते हैं कि आरोपियों से उक्त आरोपी लुधियाना के शेरपुर इलाके में मिला। जहां से उनकी जान-पहचान हुई। आरोपी जिस कमरे में बैठकर ठगी का धंधा चलाते थे, वहां भी आरोपी उनके पास आया था। इसके बाद ज्यादातर उससे फोन पर बात की और वहीं से उससे ठगी का एक एंगल सीखा, जिसमें आॅनलाइन कंपनियों को चपत लगाने का तरीका सीखा। इसकी रिवीजन के लिए वो यू-ट्यूब की मदद लिया करते थे।

टेक्नीकल टीम को मिला नंबर, वहीं से ट्रेस हुए
एडीसीपी क्राइम रूपिंदर कौर भट्टी और उनकी टीम को सीपी राकेश अग्रवाल ने इस बड़े गैंग को क्रैक करने के लिए ऑर्डर दिए थे। जिसके बाद अधिकारियों व उनकी टीम ने मिलकर टेक्नीकल ढंग से पहले आरोपियों की लोकेशन को ट्रेस किया। सूत्र बताते हैं कि टीम को इस सारी फेक काॅलिंग के दौरान एक काॅल एसी मिली, जिसमें आरोपियों ने अपने सही नंबर का इस्तेमाल किया।

लिहाजा ग्यासपुरा में उनकी लोकेशन मिली। पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने बताया कि फरार दोनों आरोपियों का गिरोह में क्या काम था, उसके बारे में पता करने के लिए पुलिस यूपी, बिहार और झारखंड की पुलिस के टच में है। फरार आरोपियों में से भी किसी का लिंक जामताड़ा से हो, उनके पकड़े जाने के बाद क्लीयर होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser