लुधियाना के पार्क में मिला रॉकेट लांचर का हिस्सा:पुलिस ने एरिया सील कर शुरू की जांच, पास ही में था छठ पूजा घाट

लुधियानाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पार्क में मिले हिस्से को लेकर जाता बम निरोधक दस्ता। - Dainik Bhaskar
पार्क में मिले हिस्से को लेकर जाता बम निरोधक दस्ता।

लुधियाना शहर के बीआरएस नगर में नगर निगम जोन डी कार्यालय के पास पार्क में रॉकेट लांचर का एक हिस्सा मिलने से हड़कंप मच गया। एरिया को पुलिस ने तुरंत सील कर दिया और जांच शुरू कर दी। पुलिस ने बम निरोधक दस्ते को बुलाकर मिले हिस्से को कब्जे में लिया गया। पुलिस की टीम आसपास के एरिया में भी जांच कर रही है, साथ ही अपील कर रही है कि पैनिक होने की जरूरत नहीं है।

पुलिस के अनुसार बम पुराना स्क्रैप है और इसे निष्क्रिय कर दिया जाएगा। हालांकि मामले को लेकर पुलिस पूरी तरह से अलर्ट है। देर शाम रॉकेट लांचर का हिस्सा मिलने की सूचना कंट्रोल रूम पर किसी अज्ञात व्यक्ति ने दी थी। इसके बाद थाना डिवीजन नंबर 5 की पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की। पार्क की दीवार के साथ यह हिस्सा पड़ा मिला। एडीसीपी-3 समीर वर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और पूरे एरिया को सील कर दिया। उन्होंने बताया कि बम का स्क्रैप लग रहा है, इसकी जांच की जा रही है कि यह यहां कैसे पहुंचा।

पार्क में मिला स्क्रैप बम, इसकी जांच की जा रही है।
पार्क में मिला स्क्रैप बम, इसकी जांच की जा रही है।

पार्क के पास ही था छठ पूजा घाट

गुरुवार शाम जिस जगह बम मिला, उससे कुछ ही दूर छठ पूजा घाट था और वहां बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे हुए थे। यह भी जांच की जा रही है कि पूजा को प्रभावित करने के लिए तो यह कोशिश नहीं की गई थी। पुलिस अधिकारियों का कहना है छठ पूजा के दौरान नहरों में पानी का स्तर कम कर दिया जाता है। हो सकता है कि इसी दौरान पीछे से स्क्रैप यहां आया हो। किसी व्यक्ति ने बेचने के लिए इसे साइड में रख दिया हो। इसकी जांच के लिए सीसीटीवी कैमरे चेक किए जा रहे हैं।

जानकारी देते हुए एडीसीपी समीर वर्मा।
जानकारी देते हुए एडीसीपी समीर वर्मा।

हर पहलू से हो रही है जांच : एडीसीपी

एडीसीपी-3 समीर वर्मा ने बताया कि प्राथमिक जांच में सामने आया है कि यह बम स्क्रैप का हिस्सा है। बहते पानी के साथ यहां आया हो सकता है। मगर पंजाब में चल रहे अलर्ट के कारण हर पहलू से जांच की जा रही है। आसपास के सीसीटीवी कैमरे चेक कर रहे हैं। यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि बम आया कहां से और यहां किसने रखा।

खबरें और भी हैं...