• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • The Family Of Deepak Shukla, Who Died In Police Custody, Staged A Protest Outside The Ludhiana Police Commissioner's Office.

पुलिस हिरासत में युवक की मौत मामला:3 पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, गिरफ्तार न करने पर परिवार का धरना

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
CP दफ्तर प्रदर्शन करते हुए मृतक दीपक शुक्ला के परिजन। - Dainik Bhaskar
CP दफ्तर प्रदर्शन करते हुए मृतक दीपक शुक्ला के परिजन।

पंजाब के लुधियाना में पुलिस हिरासत में युवक की मौत हो जाने के मामले में अदालत ने थाना डिवीजन नंबर-5 में तैनात रहे कर्मचारियों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किए है। आरोपियों की गिरफ्तारी अभी हो नहीं पाई। गिरफ्तारी न होने के रोष स्वरूप मृतक युवक दीपक शुक्ला के परिवार ने पुलिस कमिश्नर ऑफिस के बाहर बुधवार देर शाम शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन किया और पुलिस कमिश्नर डॉ. कौस्तुभ शर्मा से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा।

बता दें कि दीपक शुक्ला मामले में अदालत ने तीन पुलिस कर्मचारियों ऋचा रानी, एएसआई जसकरण सिंह और चरणजीत सिंह के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किए हुए हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी न होने के कारण दीपक शुक्ला के परिवार ने पुलिस कमिश्नर ऑफिस के बाहर शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन किया।

मरने वाले दीपक शुक्ला के पिता विनोद शुक्ला ने कहा कि उसके बेटे की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। इस मामले में अदालत के आदेशों पर तीनों आरोपियों के खिलाफ साजिश तहत गैर इरादन हत्या के तहत केस दर्ज किया गया था, जिसके बाद आरोपियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी शुरू कर दी गई थी।

पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही: परिवार

दीपक के चाचा राकेश शुक्ला ने कहा कि अदालत ने आरोपियों के गैर-जमानती वारंट जारी कर दिए गए हैं, फिर भी पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर रही। पुलिस यदि अदालत के आदेशों को नहीं मान रही तो आम लोगों की सुनवाई कैसे होगी। परिवार ने कहा कि हमें उम्मीद है कि पुलिस कमिश्नर हमारी मांग को पूरा करेंगे। वहीं CP शर्मा ने कहा कि इस मामले में ACP सिविल लाइन को जांच के लिए कहा है। ACP हरीश बहल मुताबिक पीड़ित परिवार से मुलाकात हो गई है। अदालत के जो आदेश हैं, उन पर कार्रवाई की जाएगी।