लूटपाट के लिए की थी युवक की हत्या:जस्सियां रेलवे लाइन पर मिला था शव, पुलिस ने 2 को किया काबू

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
CA-1 के इंस्पैक्टर राजेश शर्मा पकड़े गए आरोपियों के बारे जानकारी देते हुए। - Dainik Bhaskar
CA-1 के इंस्पैक्टर राजेश शर्मा पकड़े गए आरोपियों के बारे जानकारी देते हुए।

पंजाब के लुधियाना में 18 मई को जस्सियां रेलवे लाइनों के पास एक युवक का शव मिला था। उस युवक की पहचान हरविंदर सिंह हैप्पी गांव रज्जोवाल के रूप में हुई थी। मरने वाला जंगलात विभाग में क्लास-4 कर्मचारी था। उसके शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा परिजनों के सुपुर्द कर दिया था। इस मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है।

जांच दौरान CA-1 शाखा लुधियाना की टीम ने घटना स्थल पर मिले कई पहलूओं पर जांच करते हुए और आस-पास के लोगों से मिली जानकारी एकत्रित करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार किया, जबकि 1 व्यक्ति अभी फरार है। बता दें पहले इस मामले की शुरूआती जांच में पुलिस ट्रेन की चपेट में युवक आया मान रही थी, लेकिन धीरे-धीरे मामले की परतें खुलती गई और 2 आरोपी काबू कर लिए गए।

पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा ने बताया कि इस मामले को पुलिस ने हल कर लिया है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान अखिलेश प्रताप सिंह उर्फ मुरदा उर्फ शुभम निवासी जस्सियां रोड़ चौक और सौरव कुमार उर्फ बावा निवासी खजूर चौक सलेम टाबरी के रूप में हुई है। पकड़े गए आरोपियों का एक साथी दीपक उर्फ दीप उर्फ कऊं निवासी जस्सियां रोड़ अभी फरार है। पुलिस तीसरे आरोपी की पकड़ के लिए छापा मारी कर रही है।

पकड़े आरोपियों ने माना कि वह रेलवे लाइनों पर अकेले आते-जाते लोगों से मोबाइल फोन, नकदी आदि तेजधार हथियारों के बल पर छीन लेते थे। हरविंदर सिंह के साथ भी उस दिन उन्होंने ऐसा ही किया। आरोपियों ने माना की उन्होंने हरविंदर सिंह के सिर में तेजधार हथियार मार कर उसका कत्ल किया है। अदालत में पेश कर आरोपियों का पुलिस रिमांड लिया जाएगा ताकि तीसरे आरोपी को भी पकड़ा जा सके।