पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • The Trustee Said, Sell The Land For 125 Crores, The Chairman Left The Meeting, The Trustees Held A Meeting In The Matter Of Selling The Land Worth Crores Of Rupees

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट घोटाला:ट्रस्टी ने कहा, 125 करोड़ में उसे बेच दें जमीन, मीटिंग छोड़ निकले चेयरमैन, करोड़ों की जमीन कौड़ियों के भाव बेचने के मामले में ट्रस्टियों ने की मीटिंग

लुधियाना13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट की ओर से 350 करोड़ की जमीन को महज 98 करोड़ में बेचने के मामले में ट्रस्ट के चेयरमैन रमन बालासुब्रमण्यम के सामने नई पेशकश कर दी गई। सोमवार को ट्रस्ट ऑफिस में ट्रस्टियों की ओर से चेयरमैन द्वारा अब तक बेची गई प्रापर्टियों के संबंध में मीटिंग की है। मीटिंग में एक ट्रस्टी ने मॉडल टाउन एक्सटेंशन में 98 करोड़ से बेची गई जमीन का भाव बढ़ाते हुए 125 करोड़ में खरीदने की अलग से पेशकश रख दी है। जिस ट्रस्टी ने ये बात रखी थी उनका नाम धर्मेंद्र सिंह उर्फ विक्की जिप्सी बताया जा रहा है। सूत्रों से ये भी पता चला है कि मीटिंग में कुछ बहस भी हुई थी जिसके बाद चेयरमैन ने चंडीगढ़ में मीटिंग होने का बहाना बनाते हुए मीटिंग बीच में ही छोड़ दी और चले गए। उधर, इस संबंध में जब ट्रस्ट के चेयरमैन रमन बाला सुब्रह्मण्यम से बात की गई तो उन्होंने साफ कह दिया कि अब वे इस मामले में कुछ नहीं कहना चाहते हैं। चेयरमैन ने साफ कहा कि अब ये मामला सरकार के पास पहुंच गया है और जो सरकार फैसला करेगी उसके अनुसार ही आगे काम होगा।

चेयरमैन ने ये भी कहा कि चंडीगढ़ में उनकी मीटिंग में होने के कारण वे अब अगले 2 दिन ट्रस्ट से छुट्टी पर रहेंगे। गौर हो कि बीते दिनों भाजपा नेता बिक्रम सिंह सिद्धू की ओर से सस्ते दाम पर जमीन बेचने का मामला उठाए जाने पर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन रमन बाला सुब्रह्मयण ने कहा था कि भाजपा नेता जिस प्रॉपर्टी को सस्ते दाम पर बेचने के आरोप लगा रहे हैं वो 350 करोड़ में खरीदने के लिए कोई खरीदार ले आए। पहले चेयरमैन के दावों के विरुध डीसी ने जमीन के रिजर्व प्राइस तय करने से मना किया था। अब ट्रस्टी ने भी उनके सामने जमीन खरीदने की पेशकश कर नई मुसीबत खड़ी कर दी है।

समाजसेवी ने सीबीआई और विजिलेंस से जांच की मांग: इधर, लुधियाना पश्चिमी हलका से सीनियर भाजपा नेता विनीत पाल मोंगा की अगुवाई में डीसी ऑफिस के बाहर रोष प्रदर्शन किया गया। इसके साथ ही एक मांग पत्र केंद्र सरकार से सीबीआई इंक्वायरी करवाने के लिए तथा पंजाब सरकार को हाई लेवल विजिलेंस इंक्वायरी इस घोटाले में करवाने के लिए डीसी वरिंदर शर्मा के नाम जिला माल आफिसर के जरिए केंद्र की मोदी सरकार तथा पंजाब की कैप्टन सरकार को भेजा गया। धरने में पावरकॉम के पूर्व एक्सईएन बलदेव राज कतना, सुदेश सूद, इंदरप्रीत सिंह खुराना भी मौजूद रहे। मोंगा ने मांग करते हुए कहा कि इस घोटाले में जो भी कांग्रेसी नेता, मंत्री तथा नगर सुधार ट्रस्ट के चेयरमैन व अधिकारी जिम्मेवार हैं उन पर सख्त कार्रवाई की जाए अौर चेरयरमैन व अफसरों को बरखास्त किया जाए।

खबरें और भी हैं...