भारतीय किसान यूनियन कादियां:यूपी पुलिस मिश्रा को बचाने की कर रही कोशिश

लुधियाना15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय किसान यूनियन कादियां के प्रधान हरमीत सिंह कादियां ने लखीमपुर खीरी मामले को लेकर अफसोस जाहिर कर बयान जारी किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की पुलिस अपराधी आशीष मिश्रा को बचाने की भरपूर कोशिश कर रही है। यूपी पुलिस ने आशीष मिश्रा को घटना वाली जगह से भगाने में सहयोग किया। इसके साथ उसके साथी जो उस वक्त साथ थे, उन्हें भी भगाया गया।

मिश्रा को गिरफ्तारी से बचाने के लिए प्रयत्न किया जा रहा है। सभी को जानकारी है कि मिश्रा कहां छुपा है। उन्होंने कहा कि यूपी पुलिस ने जिन तीन पुलिस की टीमें गठित की हैं, वह सिर्फ किसानों और जनता की आंखों में मिट्टी डालने के लिए है। असम में उनका मकसद आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी होने से रोकना है। उन्होंने मांग की कि सुप्रीम कोर्ट के जजों की निगरानी में न्यायिक कमेटी का गठन किया जाए, ताकि निष्पक्ष जांच की जाए। मिश्रा और उसके साथियों की तुरंत गिरफ्तारी होनी चाहिए। साथ ही तुरंत पदमुक्त किया जाए। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को भी पदमुक्त किया जाए। आने वाले दिनों में इस संघर्ष की रुपरेखा तैयार करनी है, इस बारे में मारे गए किसानों की अंतिम अरदास के लिए 12 अक्टूबर को फैसले लिए जाएंगे। अगर यूपी सरकार किसानों की मांग नहीं मानती को फंसे किसानों के विरोध का सामना करना पड़ सकता है।

खबरें और भी हैं...