VIDEO: हाथों में हथकड़ी, अकेले घूमते हवालाती:पुलिस कर्मी जंजीर नहीं पकड़ते; मिलने वालों को फोन करके बुलाते; खुद UNFIT थककर बैठ जाते

विवेक शर्मा6 महीने पहले
हथकड़ी पहने घूम रहे दोनों हवालाती और पुलिस कर्मचारी उन्हीं के साथ को फोन करके मुलाकात करवाने की बात करता हुआ।

पंजाब की लुधियाना पुलिस पेशी पर लाए जाने के दौरान कैदियों पर इतनी मेहरबान है कि हाथों में हथकड़ी पहने कैदी इधर उधर अकेले घूमते रहते हैं। ऐसा लगता है मानो उन्हें पुलिस VIP ट्रीटमेंट दे रही है। कैदी कहीं, पुलिस कर्मी कहीं नजर आते। अगर हवालाती गच्चा देकर फरार हो जाए तो क्या हो, शायद पुलिसकर्मी जानबूझकर इससे अंजान हैं। कई ऐसे मामले हो भी चुके हैं कि पेशी पर आए कैदी या हवालाती भाग जाते हैं, लेकिन पुलिस सबक लेने को तैयार नहीं। पुलिस वालों की ऐसी ही करतूत का एक वीडियो सामने आया है।

लुधियाना के कोर्ट कॉम्पलेक्स में देखने को मिला कि शरीर से अनफिट पुलिस कर्मचारी दो हवालातियों को अदालत में पेश करने ले जाता है। दोनों हवालातियों ने हथकड़ी जरूर पहनी है, लेकिन उस हथकड़ी की जंजीर ASI ने नहीं पकड़ी। ASI अपनी मौज में दिखा। वह एक जगह बैठ जाता है। वहीं दोनों अपराधी बिना किसी सख्ती के इस तरह से घूम रहे थे, मानो मॉल में घूमने आए हैं। पुलिस कर्मी इतना अनफिट नजर आ रहा कि दोनों हवालाती भाग जाएं तो वह पीछा करके इन्हें पकड़ भी नहीं पाएगा। सरासर लापरवाही बरती जा रही है।

मुलाकात करवाने की दिखाई जल्दबाजी

वीडियो में यह भी दिख रहा है कि ASI साहिब दोनों अपराधियों से मिलने वाले लोगों को खुद ही फोन करके कह रहे हैं कि जल्दी आ जाओ। अगर हाथों में हथकड़ी पहने बेपरवाह घूमते अपराधी पुलिसकर्मियों की आंख में धूल झोंक कर मिलने आने वालों के साथ भागने में सफल हो जाते हैं तो गलती किसकी निकाली जाएगी या लापरवाही किसकी होगी? ऐसे हालात पैदा करने वाले पुलिसवालों की या हवालातियों की?

नियमों का सरेआम उल्लंघन

जब भी कैदी या हवालाती को जेल से पेशी पर लाया जाता है तो कैदियों की संख्या के मुताबिक कर्मचारी साथ होते हैं। जिस पुलिस कर्मचारी की डयूटी है, वह पेशी पर लाए गए आरोपी को रास्ते में कहीं रूके बिना अदालत लेकर जाता है, लेकिन लुधियाना में नियम कुछ अलग नजर आते। पेशी पर आ रहे आरोपियों को पुलिस पूरी आजादी दे रही है। लुधियाना पुलिस पेशी के समय नियमों का पालन नहीं कर रही।

पुलिस को अपराधियों पर कुछ ज्यादा ही भरोसा है, क्योंकि अपराधी हाथों में हथकड़ी पहनकर इधर से उधर घूम रहे है और बेफिक्र ASI उन्हीं के साथी को फोन करके मिलने के लिए बुला रहा है। अब देखने यह है कि क्या पुलिस विभाग के उच्चाधिकारी इस लापरवाह पुलिस कर्मचारी पर कार्रवाई करते हैं या लापरवाही इसी तरह जारी रहने वाली है।