• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Vigilance Confiscated The Entire Record Of The Trust Office, Summoned The Entire Staff, Former Chairman Raman Bala Subramaniam Still Absconding

5घंटे चली पूर्व चेयरमैन के पीए संदीप शर्मा से पूछताछ:ट्रस्ट ऑफिस का पूरा रिकॉर्ड जब्त कर ले गई विजिलेंस, पूरे स्टाफ कोे किया तलब, पूर्व चेयरमैन रमन बाला सुब्रामण्यम अब भी फरार

लुधियाना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इंप्रूवमेंट ट्रस्ट का रिकॉर्ड गाड़ी में रखती विजिलेंस टीम व खाली पड़ा ट्रस्ट का दफ्तर - Dainik Bhaskar
इंप्रूवमेंट ट्रस्ट का रिकॉर्ड गाड़ी में रखती विजिलेंस टीम व खाली पड़ा ट्रस्ट का दफ्तर

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में क्लर्क से लेकर ईओ और पूर्व चेयरमैन पर विजिलेंस ब्यूरो ने गत दिवस ही पर्चा दर्ज किया है। इस मामले में पांच लोगों की तो गिरफ्तारियां हो चुकी हैं, जबकि पूर्व चेयरमैन रमन बाला सुब्रामण्यम अभी फरार हैं। गिरफ्तार किए गए पूर्व चेयरमैन के पीए संदीप शर्मा काे अदालत में पेश करते हुए तीन दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया है। इस दौरान इनसे विजिलेंस विभाग द्वारा और आई शिकायताें के मामले में पूछताछ करते हुए बड़े खुलासे किए जाएंगे।

संदीप शर्मा की गिरफ्तारी के उपरांत इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के दफ्तर के लगभग पूरे स्टाफ को पूछताछ के लिए विजिलेंस ब्यूरो की तरफ से शुक्रवार को तलब कर लिया था, जहां सभी के बयान रिकार्ड किए गए हैं। इसके अलावा गाड़ी भरकर पूरा रिकॉर्ड विजिलेंस ब्यूरो ऑफिस में ले जाया गया था। ऐसे में इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ऑफिस में क्लर्कों से लेकर ईओ और पूर्व चेयरमैन पर भ्रष्टाचार का पर्चा दर्ज होने के बाद सन्नाटा छाया रहा। गौर हो कि विजिलेंस ने जिन एलडीपी केसों में प्लॉट अलॉट किए थे, उनके एवज में अनाधिकृत लोगों से लाखों रुपए की मोटी रिश्वत प्रति प्लॉट के हिसाब से लेने का खुलासा हो चुका है।

आज ईओ कुलजीत कौर व क्लर्क को प्रोडक्शन वॉरंट पर ला सकती है विजिलेंस
विजिलेंस ब्यूरो की तरफ से गिरफ्तार किए गए पूर्व चेयरमैन के पीए संदीप शर्मा से करीब पांच घंटे तक पूछताछ की गई। जिसमें पता चला कि संदीप शर्मा जो अधिकारी बताते थे, वो उसके अनुसार ही काम करता था। सूत्रों से पता चला है कि संदीप ने भी पूछताछ में कुछ प्लॉटों के संबंध में डाक्यूमेंट्स का जिक्र किया है जो उसके जरिए आगे जाते थे। अब उन डाक्यूमेंट्स का रिकॉर्ड जुटाकर विजिलेंस जांच करेगी। इसके अलावा शनिवार को ही जेल में बंद ईओ कुलजीत कौर और क्लर्क प्रवीण कुमार को दोबारा प्रॉडक्शन वांरट पर ला सकती है। सूत्रों के मुताबिक क्योंकि इस सारे मामलों में मुख्य चेन ईओ से ही शुरू होती थी और उसको ही मुख्य तौर पर लाया जाएगा।

हर बार नई सरकार बनने पर विवादों में आया इंप्रूवमेंट ट्रस्ट

  • दअसल सालों पुरानी काटी गई कॉलोनियों के बाद ट्रस्ट काेई नई स्कीम दोबारा नहीं ला पाया है। लेकिन जो स्कीमें पहले लाई गई थी, उनमें ही बड़ी धांधलियां हुई हैं। यही कारण है कि हर बार नई सरकार बनने पर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में नए-नए घोटाले सामने आए हैं। इसी तरह पिछली कांग्रेस सरकार में भी जब से कांग्र्रेसियों ने रमन बाला सुब्रामण्यम को चेयरमेन बनाया था, तब उनके कार्यकाल में बड़े विवाद सामने आए हैं।
  • रानी झांसी रोड पर 250 करोड़ की प्रापर्टी को ओने-पोने दामों पर चहेतों को बेचने के लिए रिजर्व प्राइज में ही करोड़ों की कटौती करवाते हुए ऑक्शन करवाने की तैयारियां हो गई थी, परंतु तत्कालीन डीसी ने पूर्व चेयरमैन द्वारा सस्ते दामों पर शापिंग कांप्लेक्स को बेचने के मनसूबों पर पानी फेरते हुए रिजर्व प्राइज में कमी नहीं होने दी थी।
  • माडल टाउन एक्सटेंशन में 3.79 एकड़ जंक साइट को बूथों को बेचने की आड़ में फर्जीवाड़ा करके किसी चहेते को बेच दिया था। इस घोटाले पर से पर्दा उठा तो पता चला कि 300 करोड़ की जमीन को करीब 100 करोड़ रुपए में बेचा गया था। इसके बाद सरकार ने इस ऑक्शन को रद्द कर दिया था।
  • ओरिएंट सिनेमा की जमीन को ओटीएस की आड़ में स्पेशल फायदा देते हुए पुराने रेट पर ही फायदा पहुंचा दिया, जबकि इस जमीन के असल मालिक कागजों में कोई और हकीकत में कोई और बताए जाते हैं।
खबरें और भी हैं...