पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Who Became The Council Head, Start Fighting With It, Congress Enthusiasts Snatch Power In Four City Council Jagras, Samrala, Raikot And Payal

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लाॅबिंग:कौन बने कौंसिल प्रधान, इसे लेकर शुरू घमासान,चार नगर कौंसिल जगराओं, समराला, रायकोट व पायल में सत्ता छीन कांग्रेसी उत्साहित

लुधियाना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर कौंसिल चुनाव के नतीजे आने के बाद अब लुधियाना जिले की 8 में से 6 नगर कौंसिल में कांग्रेसियों ने अपने पसंदीदा प्रधान बनवाने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। जगराओं, समराला, रायकोट व पायल में शिअद-भाजपा से सत्ता छीनने के कारण कांग्रेसी ज्यादा उत्साहित हैं। वहीं, खन्ना और दोराहा में भी दूसरी बार बहुमत के चलते प्रधानगी के लिए लॉबिंग शुरू हो गई है। मसलन, जगराओं में पिछली बार 6 वाॅर्ड में जीतकर चुनाव से पहले सत्ता पर काबिज भाजपा का पत्ता साफ होने पर कांग्रेसी खासे जोश में हैं। वहीं पिछली बार 7 सीटें कब्जाने वाले शिअद के इस बार एक ही वाॅर्ड में सिमटने से उनका उत्साह दोगुना है।

कहीं चली टी-पार्टी, तो कोई अपना पसंदीदा प्रधान बनवाने को आश्वस्त- कांग्रेस देहात जिला कमेटी के प्रधान किरनजीत सिंह सोनी गालिब के समर्थक इस शानदार जीत का श्रेय खुद ले रहे हैं। वे अपने गुट से 13 उम्मीदवार जीतने का दावा कर रहे हैं। जबकि पूर्व मंत्री मलकीत सिंह दाखा के समर्थक अपने गुट के ज्यादातर उम्मीदवार हार जाने से मायूस हैं। सूत्रों की मानें तो दाखा गुट आसानी से घुटने टेकने को राजी नहीं है। उसने जीते उम्मीदवारों को अपने हक में करने के लिए वीरवार को टी-पार्टी भी रखी। वहीं सोनी ने कोई टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। हालांकि वे सीएम के नजदीकी एक नेता व मंत्री से नजदीकी के चलते पसंदीदा प्रधान बनवाने को लेकर आश्वस्त हैं।

खन्ना में विधायक समर्थक लगा रहे जोर- दूसरी तरफ, खन्ना में पिछली बार की तुलना में 5 वाॅर्डों में और काबिज हुए कांग्रेसी भी अब प्रधान बनाने को लेकर सक्रिय हैं। विधायक गुरकीरत सिंह कोटली के समर्थक ऐसे उम्मीदवार के सिर प्रधानगी का ताज रखवाना चाहते हैं, जो उनके मनमुताबिक कामकाज करे। ताकि अगले विधानसभा चुनाव में माहौल अपने हक में बन सके। जबकि समराला में विधायक अमरीक सिंह ढिल्लों के हिमायती भी कम जोश में नहीं हैं। यहां कांग्रेस ने पहले की तुलना में 6 सीटों की बढ़त लेने के साथ शिअद को पीछे धकेलते हुए सत्ता छीनने वाला आंकड़ा हासिल किया है।

रायकोट, पायल और दोराहा : पायल कौंसिल पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के गृह-क्षेत्र में होने के कारण इसका श्रेय भी उनके परिजन व समर्थक लेने से पीछे नहीं हैं। जबकि दोराहा में सत्ता होने के बावजूद 2 सीटों के नुकसान से कांग्रेसियों का जोश कुछ ठंडा जरुर पड़ा है। हालांकि यहां भी बेअंत-परिवार की दखल से ही प्रधान तय होने की चर्चा है। जबकि रायकोट में सांसद डॉ.अमर सिंह बोपाराय के समर्थक अपने पसंदीदा की ताजपोशी की तैयारी में हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें