व्यापारियों को रिझाने में जुटे सुखबीर:व्यापारियों को दिया 13 सूत्रीय एजेंडा, बोले- पंजाबी एंटरप्राइजेज को प्रोत्साहित करना पहला काम

लुधियाना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लुधियाना में गुरमीत सिंह कुलार के साथ सुखबीर बादल। - Dainik Bhaskar
लुधियाना में गुरमीत सिंह कुलार के साथ सुखबीर बादल।

पंजाब के व्यापारियों, दुकानदारों और स्टार्टअप की सोच रहे लोगों को रिझाने के लिए सुखबीर सिंह बादल ने अपना 13 सूत्रीय एजेंडा पेश किया। वह यहां पर छोटे व्यापारियों और दुकानदारों से मिलने के लिए पहुंचे हुए थे। SAD अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने मीटिंग में पहले व्यापारियों की मांगें और समस्याएं सुनीं और बाद में अपने 13 सूत्रीय एजेंडे का खुलासा किया।

सुखबीर बादल ने कहा कि उनका सपना पंजाबी एंटरप्राइज को प्रोत्साहित करना है, यानी पंजाब की इंडस्ट्री को बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार आने पर वह पंजाबियों को काम करने के लिए खुली छूट देंगे। किसी भी तरह का इंस्पेक्टरी राज नहीं होगा। व्यापारियों का खुद का बोर्ड होगा जो पॉलिसी बनाएगा, इंडस्ट्री एरिया के अपने प्लानिंग और डेवलपमेंट के लिए सोसायटी होंगीं। इन्हें पैसा सरकार देगी और खर्च इन सोसायटियों की तरफ से किया जाएगा।

सुखबीर ने कहा कि बड़ी इंडस्ट्री को सोलर प्लांट लगाने पर ट्रांसमिशन चार्ज नहीं देना होगा। भले वह किसी भी शहर, जिले में सस्ती जमीन लेकर उस पर अपना सोलर प्लांट ही लगाए। इसके लिए उन्होंने ऐलान किया है कि छोटे दुकानदारों को 10 लाख लोन दिलाया जाएगा और उस पर ब्याज का 5 फीसदी हिस्सा सरकार अदा करेगी। इसी तरह MSME के कारोबारियों को 50 लाख के लोन पर 3 फीसदी टैक्स में सब्सिडी के तौर पर सरकार अदा करेगी। यही नहीं स्वरोजगार के लिए कोऑपरेटिव बैंक की तरफ से पांच लाख का लोन बिना टैक्स के मुहैया करवाया जाएगा। दुकानदारों के लिए पेंशन स्कीम लागू होगी। इसके अलावा सरकार इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए 200 एकड़ में स्किल यूनिवर्सिटी बनाकर देगी।

छोटे व्यापारियों और दुकानदारों के साथ बैठक के दौरान सुखबीर सिंह बादल व अन्य।
छोटे व्यापारियों और दुकानदारों के साथ बैठक के दौरान सुखबीर सिंह बादल व अन्य।

MSME व्यापारियों से मिले सुखबीर

MSME व्यापारी पिछले कई दिन से आरएंडडी सेंटर के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। छोटे व्यापारी लगातार बढ़ रही कच्चे माल की कीमतों को लेकर रोष जाहिर कर रहे हैं। इसके लिए एक अथॉरिटी बनाने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि जब उनके पास कोई ऑर्डर आता है तो इसके बाद कच्चे माल के दाम बढ़ जाते हैं। वह जब सामान की डिलिवरी करते हैं तो उन्हें मुनाफा नहीं होता है, इससे वह परेशान हैं।

सुखबीर बादल के समक्ष अपनी बात रखते हुए व्यापारी।
सुखबीर बादल के समक्ष अपनी बात रखते हुए व्यापारी।

इंडस्ट्री सलाहकार कुलार ने करवाई मीटिंग

यह सभा सुखबीर सिंह बादल अपने इंडस्ट्री एडवाइजर गुरमीत सिंह कुलार के सहारे कर रहे हैं। गुरमीत लगातार MSME उद्योग से जुड़े हुए नेताओं के साथ संपर्क में हैं और उनसे बातचीत कर रहे हैं। उनकी तरफ से कुछ दिन पहले फिल्लौर में जनसभा से पहले लुधियाना में मीटिंग की गई थी और इस मीटिंग के आयोजन का समय तय कर लिया था। इस मीटिंग में बड़ी संख्या में MSME से संबंधित व्यापारियों को निमंत्रण दिया गया है।

खबरें और भी हैं...