अरविंद केजरीवाल का पंजाब दौरा:जालंधर के श्री देवी तालाब मंदिर में होंगे नतमस्तक, सेवा सिंह सेखवां के परिवार से मिलने जा सकते हैं गुरदासपुर

लुधियाना10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। - Dainik Bhaskar
आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक बार फिर पंजाब आ रहे हैं। वह मंगलवार दोपहर तक पंजाब पहुंचेंगे और देर शाम जालंधर के प्रसिद्ध श्री देवी तालाब मंदिर जालंधर में नतमस्तक होंगे। इसके बाद रात को यहां होने वाले जागरण में भी शामिल होंगे। अगले दिन वह गुरदासपुर जा सकते हैं, हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं है।

पंजाब मामलों के सह प्रभारी राघव चड्ढा ने बताया कि केजरीवाल 2 दिन के दौरे पर आ रहे हैं। वह शाम 6 बजे जालंधर के श्री देवी तालाब मंदिर में माथा टेकेंगे। चड्ढा ने कहा कि श्री देवी तालाब मंदिर विश्व प्रसिद्ध है। केजरीवाल यहां वह मां से आशीर्वाद लेने पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि श्री देवी तालाब मंदिर 51 शक्तिपीठों में से एक है। यहां की गई अरदास खाली नहीं जाती। अरविंद केजरीवाल पंजाब की भाईचारक साझ, प्यार और खुशहाली के लिए अरदास करेंगे।

पत्रकारवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए राघव चड्ढा एवं हरपाल चीमा।
पत्रकारवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए राघव चड्ढा एवं हरपाल चीमा।

सेवा सिंह सेखवां के घर जा सकते हैं केजरीवाल
शिरोमणि अकाली दल बादल से अलग हुए सेवा सिंह सेखवां ने इसी साल अगस्त माह में आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे। उनका 7 अक्टूबर को देहांत हो गया। आम आदमी पार्टी के सूत्रों के अनुसार केजरीवाल गुरदासपुर में सेखवां के पैतृक घर जा सकते हैं। अभी इसकी घोषणा नहीं की गई। राघव चड्ढा ने भी कहा है कि केजरीवाल का यह कोई राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है। अगर होगा तो इसकी जानकारी तुरंत दे दी जाएगी।

सुखबीर बादल के बाद केजरीवाल का हिंदू प्यार
सुखबीर सिंह बादल पिछले कुछ समय से पंजाब में हिंदू वोट बैंक को अपनी तरफ करने के प्रयास में लगे हुए हैं। वह लुधियाना के कई हिंदू मंदिरों में नतमस्तक हो चुके हैं। वह कुछ दिन पहले श्री देवी तालाब मंदिर भी गए थे। अब अरविंद केजरीवाल भी श्री देवी तालाब मंदिर में माथा ही नहीं टेक रहे बल्कि जागरण में भी हिस्सा लेंगे। हाथ से जा रहे ग्रामीण वोट बैंक के बाद लगभग सभी राजनीतिक पार्टियां हिंदू वोट बैंक की तरफ अपना झुकाव दिखा रही हैं।

खबरें और भी हैं...