पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हलवारा एयरपोर्ट के बोर्ड पर पोती कालिख:हवाई अड्डे का नाम शहीद करतार सिंह के नाम पर न रखे जाने से नाराजगी; एयरपोर्ट से सटा है सराभा गांव, लोग बोले-सरकार नहीं कर रही सुनवाई

लुधियाना।6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हलवारा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बोर्ड पर कालिख लगाता युवक। - Dainik Bhaskar
हलवारा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बोर्ड पर कालिख लगाता युवक।

पंजाब के लुधियाना में हलवारा एयरफोर्स एयरबेस के पास बन रहे इंटरनेशनल एयरपोर्ट का नाम शहीद करतार सिंह सराभा के नाम पर रखने की मांग जोर पकड़ती जा रही है। इसी मांग को लेकर रविवार को सराभा गांव के दो युवकों ने रायकोट रोड से एयरपोर्ट की तरफ जाने वाले रास्ते पर लगे बोर्ड पर कालिख पोत कर अपना विरोध जताया। बोर्ड पर कालिख पोतने के बाद दोनों युवकों ने एक वीडियो बनाकर कहा कि सरकार उनकी मांग नहीं मान रही इसलिए उन्होंने ऐसा किया। युवकों ने सूचना बोर्ड के नीचे बैनर भी लगा दिया जिस पर हलवारा एयरपोर्ट का नाम शहीद करतार सिंह सराभा के नाम पर रखे जाने की मांग लिखी है।

हलवारा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बोर्ड पर कालिख पोत दी गई।
हलवारा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बोर्ड पर कालिख पोत दी गई।

सराभा गांव के सुखविंदर सिंह के अनुसार, हलवारा के साथ ही सराभा गांव लगता है जहां शहीद करतार सिंह सराभा ने जन्म लिया। देश की आजादी की लड़ाई में करतार सिंह सराभा की कुर्बानी भुलाई नहीं जा सकती। सराभा गांव के लोग लंबे समय से लुधियाना इंटरनेशनल एयरपोर्ट का नाम शहीद करतार सिंह सराभा के नाम पर रखने की मांग उठा रहे हैं और 1 जुलाई 2021 को इसी संबंध में लुधियाना के डीसी को ज्ञापन भी सौंपा गया। उस ज्ञापन पर 4500 लोगों ने साइन किए। पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी इसी मुद्दे पर कई ईमेल किए गए मगर कोई जवाब नहीं आया। चूंकि एयरपोर्ट की तरफ जाने वाले रास्ते पर लगे इस बोर्ड पर शहीद करतार सिंह सराभा का नाम नहीं था इसलिए उन्होंने इस पर कालिख पोत दी। उन्हें यह मंजूर नहीं कि करतार सिंह सराभा के नाम के बगैर यहां कोई बोर्ड लगे।

इतियाना गांव की जमीन पर बन रहे एयरपोर्ट से कई विवाद
लुधियाना में हलवारा एयरबेस के पास इंटरनेशनल एयरपोर्ट इतिआना गांव की जमीन पर बनाया जा रहा है। इस जमीन को एक्वायर करने के लिए भी सरकार को खासी मशक्कत करनी पड़ी क्योंकि लोग जमीन के बदले में दिए जा रहे रेट से संतुष्ट नहीं थे। बाद में मामला CM कैप्टन अमरिंदर सिंह तक गया। दिसंबर-2020 में लोगों ने मुआवजा उठा लिया और उसके बाद जमीन पर 2340 मीटर लंबी चारदीवारी कर दी गई। यहां टर्मिनल तक जाने वाली सड़क तैयार हो चुकी है। फिलहाल इसे हलवारा एयरपोर्ट के नाम से ही जाना जाता है। यहां टर्मिनल बनाने की जिम्मेदारी पहले एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की थी, मगर अब इसका काम प्रदेश सरकार ने अपने हाथ ले लिया है।

अगले साल मार्च तक बनना है एयरपोर्ट
पंजाब की मुख्य सचिव विन्नी महाजन पिछले दिनों लुधियाना आई थी और तब उन्होंने मार्च 2022 तक यहां एयरपोर्ट बनकर तैयार हो जाने की उम्मीद जताई थी। मुख्य सचिव ने कहा था कि एयरपोर्ट बन जाने के बाद लुधियाना से इंटरनेशनल फ्लाइट्स ऑपरेट होने लगेंगी।

खबरें और भी हैं...