विवाद:नशा तस्कर राजस्थान पुलिस के कर्मचारी के साथ मारपीट कर मोगा के होटल से हुआ फरार

मोगा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपी को मोगा में किसी की पहचान करवाने के लिए लेकर आई थी पुलिस

राजस्थान पुलिस द्वारा चूरापोस्त की तस्करी के मामले में गिरफ्तार आरोपी पुलिस रिमांड पर होने के दौरान मोगा में किसी की पहचान करवाने के लिए लाया गया था। पुलिस आरोपी को लेकर एक होटल में रुकी। यहां आरोपी पेशाब करने का बहाना बनाकर पुलिस मुलाजिम से मारपीट करते हुए अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

थाना मैहना के सुखपाल सिंह ने बताया कि राजस्थान के कोटा नारकोटिक्स सेल के सब इंस्पेक्टर कांत पटेल ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि थाना सीबीएन कोटा राजस्थान पुलिस द्वारा 6 मई 2022 को चूरा पोस्त से भरे एक ट्रक को कब्जे में लिया था, जिसमें से पुलिस को 3976.100 किलोग्राम चूरा पोस्त बरामद हुआ था।

पुलिस ने चूरा पोस्त की तस्करी के आरोप में सर्वजीत कुमार निवासी माछीवाड़ा हाल आबाद प्रोफेसर कॉलोनी खन्ना को गिरफ्तार करके उसे 7 मई 2022 को स्पेशल कोर्ट एनडीपीएस में पेश किया गया था। अदालत ने आरोपी को 13 मई तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया था।

शिकायतकर्ता सब इंस्पेक्टर कांत पटेल ने कहा कि पुलिस द्वारा नशा तस्करी मामले में अगली जांच के लिए 8 मई 2022 को पुलिस मुलाजिम राजेश कुमार व ड्राइवर दिनेश कुमार के अलावा तस्कर सरबजीत कुमार को साथ लेकर रात को 10 बजे मोगा-फिरोजपुर रोड पर स्थित होटल में कमरा नंबर 105 में रुके थे।

9 मई की सुबह 4:20 बजे आरोपी सरबजीत कुमार ने पेशाब करने का बहाना बनाकर उसे उठाया तथा कमरे का ताला खोलकर वह उसे बाथरूम में ले गया, यहां आरोपी ने पुलिस मुलाजिम के साथ हाथापाई करते हुए उसकी वर्दी फाड़ दी और घायल करने के बाद अंधेरे में फरार हो गया।

मामले की जानकारी सीनियर पुलिस अधिकारियों को देने पर और थाना मैहना पुलिस को सूचित करने पर उसे सिविल अस्पताल में लाकर दाखिल करवाया गया। मैहना पुलिस ने उसके बयान पर सरबजीत कुमार के खिलाफ धारा 353, 186, 224, 323 के तहत केस दर्ज कर लिया है। थाना मैहना के इंस्पेक्टर लक्ष्मण सिंह ने बताया कि राजस्थान पुलिस से फरार हुए आरोपी सरबजीत कुमार की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

खबरें और भी हैं...