हादसा:कनाडा की क्रेडिट वैली नदी में इस साल तीसरे पंजाबी विद्यार्थी की डूबने से हुई मौत

मोगा2 महीने पहलेलेखक: हरबिंदर सिंह भूपाल
  • कॉपी लिंक
कनाडा की क्रेडिट वैली व्यू नदी, यहां अकसर पंजाबी विद्यार्थी चले जाते हैं। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
कनाडा की क्रेडिट वैली व्यू नदी, यहां अकसर पंजाबी विद्यार्थी चले जाते हैं। (फाइल फोटो)
  • गहरी नदी में स्विमिंग पर है रोक, मगर अनदेखी में फन के लिए युवा गंवा देते हैं जान, हर साल 10 पंजाबी युवाओं की हो जाती है डूबने से मौत

ज्यादा कमाई की इच्छा व कनाडा में बसने के सपना लेकर हर स्टीम में लाखों पंजाबी विद्यार्थी कनाडा पहुंचते हैं। मगर वहां की गहरी नदियों और तेज ट्रैफिक में पिछले दो सालों से 35 युवा अपनी जान गंवा चुके हैं। इनमें 20 युवाओं की नदी में डूबने से मौत हुई है। इसी वर्ष 5 महीनों में नदी डूबने से तीसरे युवक की मौत हुई है।

ज्यादातर हादसे ओंटारिओ की क्रेडिट वैली नदी में हुए हैं। छुटि्टयों में पंजाबी युवा कनाडा की इस नदी के किनारे फन के लिए आते हैं। कुछ लोग बोटिंग करते हैं, कुछ क्रूज में बैठ कर नदी का दूर तक चक्कर लगाते व क्रूज में खाने-पीने का आनंद उठाते हैं।

इस में खर्च बहुत होता है। ऐसे में अंतरराष्ट्रीय विद्यार्थी खास कर पंजाबी युवा नदी किनारे बैठ कर व नजदीक ही स्विमिंग करने लगते हैं। यह नदी काफी गहरी है और वहां स्विमिंग की मनाही है। युवक नदी के किनारे स्विमिंग करते हुए फन ही फन में आगे निकल जाते हैं और डूब जाते हैं।

रविवार को मोगा जिले के कस्बा बधनी कलां का नवकिरन सिंह (20) की ओंटारिओ की क्रेडिट वैली नदी में ही डूबने से मौत हो गई है। इससे पहले जनवरी, 22 में लुधियाना के 19 वर्षीय सिमरजीत सिंह और अप्रैल महीने में जिला फरीदकोट के 23 वर्षीय हर्शप्रीत बरोत की भी इसी तरह डूबने से मौत हुई थी।

पंजाबी भाईचारे के जस बराड़ ने बताया कि बहुत बार बताने के बावजूद गहरे पानी में लापरवाही से ऐसी घटनाएं होती हैं, जिस कारण कनाडा में पंजाबी विद्यार्थियों की हर साल पानी में डूबने से मौत हो जाती हैं। साल में कम से कम 10 युवाओं ऐसे मौत होती है।

हर साल एक लाख पंजाबी विद्यार्थी जाते हैं कनाडा पढ़ने

इमीग्रेश का काम देखने वाले कुलजिंदर संधू का कहना है कि कनाडा में जनवरी, मई, अगस्त व नवंबर चार इनटेक में दाखिले होते हैं। हर इनटेक में 25 हजार और साल में एक लाख पंजाबी विद्यार्थी कनाडा जाते हैं।

संधू ने बताया कि ज्यादातर विद्यार्थी अपने खर्च के लिए रोज दिन काम करते हैं मगर कुछ युवक 5 दिन काम करके दो दिन वीक एंड पर फन करने के लिए छुट्‌टी करते हैं। ऐसे में वे नदी पर पिकनिक के लिए जाते हैं। नदियां गहरी होने के चलते वहां स्विमिंग की मनाही है, बोटिंग खूब होती है।

विद्यार्थी फन केवल चौकसी के साथ ही करें : रूबी सिंह

पंजाबी एमपी रूबी सिंह का कहना है कि गहरे पानी के प्रति लापरवाही ठीक नहीं होती। माता-पिता लाखों रुपए खर्च करके अपने बच्चों को अपने से दूर भेजते हैं ताकि उनका अच्छा भविष्य बन सके। कनाडा में आए विद्यार्थियों को पढ़ने के साथ-साथ मेहनत की तरफ ध्यान देना चाहिए ताकि आने वाले समय वो पक्का हो सकें। फन केवल चौकसी के साथ ही करें।

खबरें और भी हैं...