डीसी ने कहा:नशों के खिलाफ हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत करें नागरिक

नवांशहर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विश्व नशा विरोधी दिवस के उपलक्ष्य में जिला प्रशासन, पुलिस, सेहत विभाग, जिला कानूनी सेवावां अथारिटी, जिला रोजगार दफ्तर, जिला खेल अफसर, नेहरु युवा केंद्र, रेड क्रास नशा मुक्ति केंद्र के सहयोग से जिले में नशा मुक्ति के लिए प्रण लिया जाएगा। डीसी नवजोत पाल सिंह रंधावा ने कहा कि जिले में नशा मुक्त भारत अभियान चलाया जा रहा है। हमें नशे के खिलाफ एकजुट होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि नशा विरोधी जिला प्रशासन द्वारा हैल्पलाइन 95010-65718 शुरू की गई है। नशा पकड़वाने वालो को 51 हजार रुपए का इनाम भी रखा गया है।

एसएसपी संदीप कुमार शर्मा ने कहा कि जिला पुलिस ने नशा तस्करों के खिलाफ बड़े स्तर पर मुहिम चला रही है। पुलिस का कोई भी मुलाजिम किसी भी नशा तस्कर का किसी भी तरह का लिहाज नहीं रखेगा तथा उस पर सख्त कार्रवाई करेगा। शहीद-ए-आजम भगत सिंह की धरती पर नशा तस्करों के लिए नशे के लिए कोई स्थान नहीं है। उन्होंने नशा छुड़ाने के लिए एनजीओ द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। सिविल सर्जन डा. दविंदर ढांडा ने कहा कि नशे के खिलाफ युद्ध में जिला व पुलिस प्रशासन के साथ सेहत विभाग भी ओट सेंटरों व नशा मुक्ति केंद्र चला कर योगदान दे रहा हैं।

जिले में 8 से 13 ओट सेंटर कर दिए गए तथा इन को 15 तक ले जाया जाएगा । इस साल मार्च से अब तक 6687 नशा पीडितों ने इन ओट सेंटर पर अपनी रजिस्ट्रेशन करवाई है इन में से 1333 अपना इलाज करवा कर ठीक हो चुके हैं। पुराने सिविल अस्पताल के नशा छुड़ाओ केंद्र में मनोरोग माहिर डा. राजन शास्त्री व मैडीकल अफसर डा. रमनदीप की अगुवाई में फरवरी से ओट सेंटर चलाया जा रहा है। डा. रमनदीप ने बताया कि अब तक 400 के करीब नशा पीड़ित में दाखिल है। जिला सामजिक सुरक्षा अफसर राज किरन ने कहा कि नशा मुक्त करने के लिए 50 वालंटीयर अपने तौर पर लोगो में जाकर काम कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...